हकीकत बताएगी श्यामा प्रसाद मुखर्जी पर बनी फिल्म -1946 कलकत्ता किलिंग्स

        केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड ने ‘1946 कलकत्ता किलिंग्स’ नामक फिल्म को दी मंजूरी

        हिंदी और बांग्ला भाषा में बनी फिल्म 14 अप्रैल को देश भर के सिनेमाघरों में होगी रिलीज

जयपुर (विसंकें)। जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी पर आधारित फिल्म ‘1946 कलकत्ता किलिंग्स’ 14 अप्रैल को रिलीज होगी। ये फिल्म उस समय की हकीकत बताएगी। निर्देशक के मुताबिक फिल्म को सेंसर बोर्ड की मंजूरी मिल गई है। निर्देशक मिलन भौमिक ने कहा कि हिंदी और बांग्ला भाषा में बनी यह फिल्म 14 अप्रैल को देश भर के 350 सिनेमाघरों में रिलीज होगी। भौमिक ने कहा कि फिल्म निर्माताओं ने एक संदेश जारी कर कहा है कि फिल्म का उद्देश्य युवाओं को सांप्रदायिक हिंसा के खतरों के बारे में शिक्षित करना है, जैसा कि केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) ने कहा था। फिल्म में श्यामा प्रसाद को एक महान दूरदृष्टा, बंगाल के वास्तुकार और सभी समुदायों के नेता के रूप में दिखाया गया है। यह फिल्म वर्ष 1946 के कोलकाता पर आधारित है। जिसमें नेहरू, जिन्ना और तत्कालीन भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद के ऐतिहासिक किरदार का चित्रण किया गया है। श्यामा प्रसाद की भूमिका फिल्म एवं टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के पूर्व अध्यक्ष गजेंद्र चौहान ने निभाई है। श्यामा प्रसाद पर बनी फिल्म 14 अप्रैल को होगी रिलीज भौमिक ने बताया कि सीबीएफसी के कोलकाता और मुंबई कार्यालयों द्वारा फिल्म को प्रमाणन दिए जाने से इन्कार करने के बाद 2017 की शुरुआत में उन्होंने एफसीएटी में अपील की उन्होंने कहा कि उनकी फिल्म में 1946 की हिंसा का महिमामंडन नहीं किया गया है। उनका उद्देश्य लोगों को ऐसी हरकतों को अंजाम देने वालों के बारे में आगाह करना और युवाओं को दंगों के खतरे के बारे में शिक्षित करना है।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen + two =