Monthly Archive: June 2016

pic-1-300x169 0

समृद्धि और संस्कृति साथ-साथ चलनी चाहिए, तभी भारत समृद्ध बनेगा – डॉ. बजरंग लाल गुप्त जी

नई दिल्ली (इंविसंके). प्राचीन भारत की समृद्ध अर्थव्यवस्था एवं तत्कालीन सामाजिक ताने-बाने पर आधारित पुस्तक ‘प्राचीन भारतीय अर्थ-चिंतन’ पुस्तक का लोकार्पण डॉ. मुरली मनोहर जोशी ने किया. प्रसिद्ध अर्थशास्त्री स्वर्गीय गोविन्द राम साहनी द्वारा लिखित पुस्तक...

final_bstSnapshot_283901 0

पौधारोपण की तैयारियां

विसंकेजयपुर जयपुर, 29 जून। जहां राजस्थान में मौसम प्रभावी रूप से दस्तक देने को है वहीं अमृतादेवी पर्यावरण नागरिक संस्थान से जुडे कार्यकर्ता सघन पौधारोपण की योजना को धरातल पर उतारने को आतूर है।...

DSC_1987.-300x199 0

सभी में सेवा धर्म होना आवश्यक – डॉ. मोहन भागवत जी

बीड़ (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि किसान सुरक्षित रहें, समाज में ऐसा वातावरण तैयार करें. किसान आत्महत्या किस कारण करता है, वह खुद को अकेला क्यों...

??????????????????????????????? 0

‘अपनी’ घाटी में विदेशियों की बसावट

—अब तक बीस हजार से अधिक रोहिंग्या मुसलमानों की अवैध बसावट —कट्टरपंथियों के बराबर सम्पर्क में ये विदेशी विसंकेजयपुर जयपुर, 29 जून। भले ही हमें यह पढकर आश्चर्य हो लेकिन यह सत्य है कि...

final_bstSnapshot_144341 0

युवाओं ने सीखा ‘पुनर्जन्म का सिद्धांत’

कबड्डी प्रतियोगिता विसंकेजयपुर पावटा। देश—दुनिया के युवाओं पर भारतीय खेल कबड्डी का जादू सिर चढकर बोल रहा है। हिन्दू दर्शन के ‘पुनर्जन्म के सिद्धांत’ का ज्ञान करानेवाले इस खेल को खेलने में युवाओं की रूची...

final_bstSnapshot_766401 0

स्वयंसेवकों ने की गुडा गांव की सफाई

विसंकेजयपुर झुंझुनु, 28 जून। स्वच्छता में उत्तम स्वास्थ निवास करता है। जहां पूर्ण स्वच्छता होती है वहां बीमारियां पांव तक नहीं पसारती है। अपना गांव भी स्वच्छ रहे, ग्रामीण स्वस्थ रहें यह बात विचार...

80eda08d-3514-4540-b9a5-d191d9337d11 0

‘चमक’ उठा रघुनाथ मंदिर

—निवारू का प्रसिद्ध रघुनाथ मंदिर —करधनी नगर के स्वयंसेवकों ने की मंदिर परिसर की सफाई विसंकेजयपुर जयपुर, 27 जून। किसी ने सत्य ही कहा है कि देशभक्ति के लिए घर से दूर जाने की...

जल-युक्त-लातूर-2-300x200 0

लातूरवासियों का प्रयास देश के लिए दिशादर्शक—डॉ. मोहन भागवत

लातूर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प.पू.सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा समाज में विचार मतभेद हो सकते हैं परंतु समाज समझ बूझकर जब एक विचार करता है तब उसकी पूर्ति के लिए पूरा समाज...

0a07fab7-67f9-4fdd-879c-5272d9a2613c 0

भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति सबसे प्राचीनतम—श्री आलोक कुमार

विसंकेजयपुर मेरठ, 26 जून। ‘भारत विश्व की सबसे प्राचीन सभ्यता है। भारत में पुरातत्व विभाग द्वारा खोजे गए कई ऐसे प्रमाण मिले हैं जो कम से कम आठ हजार वर्ष पुराने हैं। इससे यह...

d28718ae-6504-46e9-bfbf-f5c859cd7037 0

सहकारिता के साथ प्रयोग करना बंद करें—श्री मुकेश मोदी

”जहां गरीबी, अमीरी का अंतर समाप्त करने के लिए सहकारिता जरूरी है वहीं यह भी जरूरी है कि सहकारिता के साथ प्रयोग करना बंद किया जाए तथा स्वतंत्र स्वायत सहकारिता स्थापित हो।” यह कहना...