Monthly Archive: January 2019

446d2f34-b344-421f-be00-e17fbb36c9a5 0

शबरीमाला आंदोलन समाज का संघर्ष है – डॉ. मोहन भागवत

जयपुर (विसंके). धर्म संसद जगद्गुरू स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती जी महाराज की अध्यक्षता में प्रारंभ हुई, जिसमें देश भर के पूज्य संतों की उपस्थिति में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने...

VSK-LOGO 0

संस्कृत भारती का तीन दिवसीय प्रांतीय सम्मलेन कल से

जयपुर (विसंके)। संस्कृत भाषा के पठन-पाठन को समाज के हर वर्ग तक पहुँचाने व हर एक पीढ़ी के व्यक्ति को संस्कृत अध्ययन हेतु प्रोत्साहित करने के लक्ष्य को लेकर विगत 35 वर्षों से प्रयासरत “संस्कृत भारती” अखिल भारतीय स्तर...

sarvasamaveshi-kumbh. 0

वैचारिक कुम्भ हम सब को एकात्मता की ओर ले जाने वाला सिद्ध होगा – भय्याजी जोशी

प्रयागराज. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भय्या जी जोशी ने कहा कि भारत की विशिष्ट पहचान एवं हिन्दू समाज की जीवन दृष्टि, विभिन्न विचार मत, पंथ, सम्प्रदाय एवं साधना पद्धतियों का ध्येय व सत्य...

kumbh-sarvasamaveshi 0

विश्व की सभी चुनौतियों से मुकाबला करने का सूत्र भारतीय संस्कृति में है

सर्वसमावेशी सांस्कृतिक कुम्भ प्रयागराज. विभिन्न मत, पंथ, सम्प्रदाय के विभिन्न प्रान्तों से पधारे भारत के हजारों पूज्य संत गंगा पण्डाल में एकत्रित हुए. जहाँ ‘एक सद्रविप्रा बहुधा वदन्ति’ ध्येय वाक्य पर पूज्य सन्तों ने...

kinner-akhara. 0

कुंभ में आकर्षण का केंद्र किन्नर अखाड़ा

अर्धनारीश्वर की छवि के साथ एक विशाल द्वार – केंद्र शीर्ष पर स्त्री और पुरुष रूप में एकाकार भगवान शिव प्रयागराज में कुंभनगरी में किन्नर अखाड़े के मुख्य मंच की पृष्ठभूमि है। यहां सशस्त्र...

VSK-LOGO 0

सब है मन का खेल

आप, मैं और हम सभी कुछ न कुछ काम तो करते ही हैं। हम सभी जितने भी काम करते हैं, उन्हें दो भागों में बाँटा जा सकता है। पहले भाग में वे काम आते...

kumbh-prayagraj 0

हमारी सनातन परंपरा में शामिल है महिलाओं का सम्मान

कुंभ और अर्द्धकुंभ में अखाड़ों की पेशवाई और शाही स्नान का एक अलग ही आकर्षण रहा है. वर्तमान में शैव, वैष्णव और उदासीन पंथ के संन्यासियों के मान्यता प्राप्त 13 अखाड़े हैं – इनमें...

67ea25ac-ac79-44aa-82be-f39f48e76cc3 0

देशहित में एकजुट होकर विपरीत परिस्थितियों का सामना करें – मेजर जनरल जी.डी.बक्शी

जयपुर के मानसरोवर में द्रव्यवती नदी के लैंडस्केप पार्क स्थित ओपेन आॅडिटोरियम में राष्ट्रभक्तों को समर्पित कार्यक्रम ‘द अनसंग हीरोज’ का आयोजन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (महाविद्यालय कार्य विभाग) द्वारा किया गया। कार्यक्रम का मुख्य...

17c814b4-c092-44ea-82c2-1a8ebfe4d21e 0

संघ के चतुर्थ सरसंघचालक प्रो. राजेन्द्र सिंह (रज्जू भैया) – जन्म दिवस / 29 जनवरी, 1922

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के चतुर्थ सरसंघचालक प्रो. राजेन्द्र सिंह का जन्म 29 जनवरी, 1922 को ग्राम बनैल (जिला बुलन्दशहर, उत्तर प्रदेश) के एक सम्पन्न एवं शिक्षित परिवार में हुआ था। उनके पिता कुँवर बलबीर...

177607_RBHJ_FINAL 0

हनुमान : एक अद्‌भुत व्यक्तित्व

हनुमान भारतीय चेतना के एक अद्भुत पात्र हैं या यूँ कह लीजिए कि एक विलक्षण नायक हैं। विशाल ग्रंथ ‘रामचरितमानस’ में कई चरित्र हैं। श्रीराम के साथ-साथ उनके पिता दशरथ जी हैं, तो उनके...