Category: जन्म दिवस

2_12_26_48_ram_1_H@@IGHT_415_W@@IDTH_675 0

राम के बिना हिन्दू जीवन नीरस है

                  सीय राममय जब जग जानी। करउं प्रणाम जोरि जुग पानी। गोस्वामी तुलसीदासजी के उपर्युक्त पद संसार को यह सन्देश देती है कि पूरे संसार सीता-राम...

9269de91-f9ce-4fa7-9ac2-bbdd84da1200 0

शत्-शत् नमन चैत्र शुक्ल प्रतिपदा जन्म-दिवस, संघ संस्थापक डा. हेडगेवार

विश्व के सबसे बड़े स्वयंसेवी संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को आज कौन नहीं जानता ? भारत के कोने-कोने में इसकी शाखाएँ हैं। विश्व में जिस देश में भी हिन्दू रहते हैं, वहाँ किसी न...

jagjivan-babu-5-1 0

05 अप्रैल / जन्मदिवस – बाबू जगजीवनराम और सामाजिक समरसता

समाज के निर्धन और वंचित वर्ग के जिन लोगों ने उपेक्षा सहकर भी अपना मनोबल ऊंचा रखा, उनमें ग्राम चन्दवा (बिहार) में पांच अप्रैल, 1906 को जन्मे बाबू जगजीवनराम का नाम उल्लेखनीय है. उनके पिता शोभीराम...

111-1038x576 0

03 अप्रैल / जन्म दिवस – वीरता की मिसाल फील्ड मार्शल मानेकशा

जयपुर (विसंकें). 20वीं शती के प्रख्यात सेनापति फील्ड मार्शल सैम होरमुसजी फ्रामजी जमशेदजी मानेकशा का जन्म 3 अप्रैल 1914 को एक पारसी परिवार में अमृतसर में हुआ था. उनके पिता जी वहां चिकित्सक थे....

arvind-bhattcharya 0

01 अप्रैल / जन्मदिवस – मौन साधक अरविन्द भट्टाचार्य

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने सैकड़ों मौन साधकों का निर्माण किया है, जिन्होंने अपनी देह को तिल-तिल गलाकर गहन क्षेत्रों में हिन्दुत्व की जड़ें मजबूत कीं. ऐसे ही एक मौन साधक थे अरविन्द भट्टाचार्य. अरविन्द...

Sanjay_Kumar_PVC 0

03 मार्च / जन्मदिवस – कारगिल युद्ध का सूरमा परमवीर संजय कुमार

भारत माता वीरों की जननी है. इसकी कोख में एक से बढ़कर एक वीर पले हैं. ऐसा ही एक वीर है – संजय कुमार, जिसने कारगिल के युद्ध में अद्भुत पराक्रम दिखाया. इसके लिए...

laurence-wilfred-laurie-baker-l 0

02 मार्च / जन्मदिवस – निर्धनों के वास्तुकार लॉरी बेकर

दुनिया में ऐसे लोग बहुत कम होते हैं, जिनमें प्रतिभा के साथ-साथ सेवा और समर्पण का भाव भी उतना ही प्रबल हो. इंग्लैंड के बरमिंघम में दो मार्च, 1917 को जन्मे भवन निर्माता एवं...

Mahatma_Phule 0

20 फरवरी / जन्मदिवस – समाज सुधारक महात्मा ज्योतिबा फुले

जयपुर (विसंके). महात्मा ज्योतिबा फुले का जन्म 20 फरवरी, 1827 को पुणे (महाराष्ट्र) में हुआ था. इनके पिता गोविन्दराव जी फूलों की खेती से जीवन यापन करते थे. इस कारण इनका परिवार फुले कहलाता...

sant_ravidas_2 0

पूज्य रविदास महराज के प्राकट्योत्सव पर शत शत नमन ….

जाति-जाति में जाति हैं, जो केतन के पात। रैदास मनुष ना जुड़ सके जब तक जाति न जात।। रैदास कहें जाके ह्रदै, रहै रैन दिन राम । सो भगता भगवंत सम, क्रोध न ब्यापै...

2_05_47_12_Shivaji-Maharaj_1_H@@IGHT_415_W@@IDTH_675 0

जयंती विशेष: हिंदुत्व के गौरव छत्रपति शिवाजी महाराज

छत्रपति शिवाजी जैसे आदर्श शासक और संगठक विश्व के इतिहास में दूसरे नहीं मिलते हैं। उन्होंने एक राजा के तौर पर निष्पक्ष शासन किया और एक सेनापति के नाते हर सैनिक का ऐसा मनोबल...