Category: प्रेरक-प्रसंग

कन्हाईलाल दत्त 0

चिता की भस्म से लोगों ने तिलक किया

देशद्रोही का वध (31 अगस्त/प्रेरक-प्रसंग) स्वाधीनता प्राप्ति के प्रयत्न में लगे क्रांतिकारियों को जहां एक ओर अंग्रेजों ने लड़ना पड़ता था, वहां कभी-कभी उन्हें देशद्रोही भारतीय, यहां तक कि अपने गद्दार साथियों को भी...