एक वीरांगना, जिसकी आंखों में ‘आतंकवाद से आज़ाद’ कश्मीर का ख्वाब था, कायर आतंकियों ने की हत्या

कश्मीर घाटी में आतंकियों ने आतंक की नयी हद पार की है, घाटी में अब महिलाएं भी आतंकियों से सुरक्षित नहीं हैं. गुरूवार (31 जनवरी) रात जम्मू कश्मीर में एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें आतंकी फेरन पहने एक मासूम लड़की की लाइव हत्या कर रहे हैं. 10 सेकंड के इस वीडियो में लड़की हाथ जोड़े घुटनों के बल बैठी है, तभी अचानक आतंकी उसके सर में 2 गोलियां मारते हैं. इस्लामिक स्टेट स्टाइल आतंकियों की ये कायराना बर्बरता देख आपका खून खौलने लगेगा कि आतंकी घाटी में किस कदर हैवानियत पर उतर आए हैं. शुक्रवार सुबह तक वीडियो से जुड़ी तमाम जानकारी स्पष्ट हो गई.

सुबह शोपियां जिले के ड्रगाड से सुरक्षाबलों ने लड़की की लाश बरामद की. जिसकी पहचान 25 साल की इशरत मुनीर के रूप में हुई. इशरत डेंजरपोरा पुलवामा की रहने वाली है. टेलिग्राम मैसेज से पता चला कि 13 जनवरी को मारे गए अल-बद्र कमांडर जीनत-उल-इस्लाम की मौसेरी बहन है. खबरों के मुताबिक आतंकियों को शक था कि इशरत ने आतंकियों की सूचना सुरक्षाबलों को दी थी. इसी शक के आधार पर आतंकियों ने इशरत को अगवा किया और इस्लामिक स्टेट स्टाइल में उसकी हत्या कर दी.

मारा गया आतंकी जीनत उल इस्लाम

घाटी में इस घटना के बाद जबरदस्त रोष है, लगातार आतंकवाद से आजिज आ चुके लोग शांति और अमन चाहते हैं. क्योंकि आतंकियों ने अब महिलाओं को भी अपना निशाना बनाना शुरू कर दिया है. यही वजह है कि जान खतरे में होने के बावजूद स्थानीय लोग ही आतंकियों की सूचना सुरक्षा एजेंसियों को मुहैया करा रहे हैं. इसी कड़ी में आज सुबह पुलवामा में सुरक्षाबलों ने 2 और आतंकियों को मार गिराया. दोनों जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े थे.

बहरहाल पुलिस ने दावा किया है कि जल्द ही इशरत मुनीर के हत्यारों को उनके अंजाम तक पहुंचाया जाएगा.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 1 =