ऑपरेशन ड्रीम्स – पिज्जा-डिलीवरी ब्वॉय से सब इंसपेक्टर बनने की कहानी

आईपीएस संदीप चौधरी की मदद से पूरा किया सपना

शोपियां जिले के एसएसपी संदीप चौधरी ने एक युवक के परिश्रम और सफलता की कहानी बताई है. संदीप चौधरी ने ट्वीट में एक फोटो शेयर कर एक नौजवान मोईन खान के बारे में जानकारी दी और बताया कि कैसे लगन और मेहनत के साथ एक पिज्जा डिलीवरी ब्वॉय की नौकरी करने वाला आज पुलिस ऑफिसर बनने वाला है.

मोईन खान जम्मू में आईपीएस संदीप चौधरी के फ्री कोचिंग क्लास ऑपरेशन ड्रीम्स में पढ़ने आता था. मोईन खान जम्मू में शाम के 6 बजे से रात के 2 बजे तक पिज्जा हट में डिलीवर ब्वॉय की नौकरी करता था. इसके अलावा मोईन कार वॉशिंग का काम भी करता था. इसके बाद भी मोईन कोचिंग क्लास और पढ़ाई के लिए समय निकाल लेता. जिसके परिणामस्वरूप मोईन खान जम्मू कश्मीर पुलिस में सब इंस्पेक्टर पद के लिए आयोजित परीक्षा उत्तीर्ण की तथा अब ऊधमपुर पुलिस अकादमी में प्रशिक्षण ले रहा है.

जम्मू जिले के नागरोटा इलाके के ठंडा पानी गांव के रहने वाले 28 साल के मोईन खान के माता-पिता अनपढ़ हैं. मोईन अपने परिवार में पहला ग्रेजुएट है. बड़ा भाई डाउन-सिंड्रोम का शिकार है, घर में कमाई का कोई साधन नहीं था. वर्ष 2012 में ग्रेजुएशन करने के बाद मोईन ने पिज्जा डिलीवरी ब्वॉय के रूप में काम करने के साथ ही पढ़ना भी जारी रखा.

साल 2016 में मोईन खान ने सब-इंस्पेक्टर पद के लिए आवेदन भरा. तो किसी दोस्त ने आईपीएस संदीप चौधरी द्वारा चलायी जा रही फ्री कोचिंग क्लास – ऑपरेशन ड्रीम्स के बारे में बताया और मोईन ने वहां कोचिंग लेना शुरू किया. पिछले दिसंबर में परिणाम घोषित हुआ, जिसमें मोईन खान को चयनित घोषित किया गया. मोईन खान अकेला युवक नहीं है, जिसने ऑपरेशन ड्रीम्स में कोचिंग लेकर सफलता प्राप्त की हो. उसके जैसे युवकों की सूची काफी लंबी है.

ऑपरेशन ड्रीम्स की कहानी

आईपीएस बनने के बाद संदीप चौधरी ने जम्मू में तैनाती के दौरान तय किया कि वे समाज के कमज़ोर वर्ग के लिए कुछ सकारात्मक करेंगे. इसके लिए संदीप चौधरी ने जम्मू के एक बैंक्वेट हॉल में फ्री-कोचिंग क्सास शुरू की. जिसमें गरीब तबके के करीब 150 छात्रों को संदीप चौधरी ने कंपीटीशन की तैयारी करवाई. संदीप चौधरी सुबह 8 बजे से 10 बजे तक क्लास लेते थे.

हाल ही में शोपियां में एसएसपी पद पर ट्रांसफर होने के बाद संदीप चौधरी ने शोपियां में भी ऑपरेशन ड्रीम्स का साथ नहीं छोड़ा है. यहां भी एसएसपी संदीप 6 नौजवानों को सफलता के गुर सिखा रहे हैं.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten − one =