ओमप्रकाश अग्घी जी का देवलोकगमन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक एवं वनवासी कल्याण आश्रम के अखिल भारतीय सह हितरक्षा प्रमुख ओमप्रकाश जी अग्घी का 07 नवंबर 2018 को आकस्मिक निधन हो गया. उन्होंने लम्बे समय तक भारतीय मजदूर संघ में कार्य किया. उनकी आयु 91 वर्ष की थी.

ओमप्रकाश जी का जन्म सन् 1928 में तत्कालीन पंजाब प्रान्त (पाकिस्तान) में टोबा टेकसिंह ग्राम जिला लायलपुर (फैजलाबाद) में हुआ था. अग्घी जी छात्र जीवन में संघ के संपर्क में आए. बी.ए. (स्नातक) की पढ़ाई करने के बाद सन् 1948 में संघ के प्रचारक बने. पंजाब प्रान्त में संघ प्रचारक के रूप में विभिन्न दायित्वों का निर्वहन किया. करनाल जिला प्रचारक के रूप  में कार्य करने के पश्चात् सन् 1966 में उन्हें भारतीय मजदूर संघ का कार्य सौंपा गया. उन्होंने लगभग 45 वर्ष मजदूर क्षेत्र में सघन कार्य किया. वे कई वर्षों तक अखिल भारतीय मजदूर संघ में संगठन मंत्री भी रहे.

प.पू. सरसंघचालक मोहन जी भागवत ने अपने शोक संदेश में अग्घी जी को उनके संगठन कौशल, साहसी वृत्ति, सादगी, कठोर परिश्रम, विनम्रता आदि गुणों को याद किया. उनके प्रचारक के नाते संघ समर्पित निःस्पृह तथा कार्यमग्न जीवन को प्रेरणादायी बताया.

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने अपने शोक संदेश में उनके जीवन को ज्ञान, कर्म और देशभक्ति के संगम के रूप में उल्लेख किया.

ओमप्रकाश जी की अंतिम यात्रा वनवासी कल्याण आश्रम से सुभाष विश्राम घाट के लिये 08 नवंबर 2018 को सायं 4ः00 बजे निकली. यात्रा में कल्याण आश्रम के संगठन मंत्री अतुल जोग, हितरक्षा प्रमुख गिरीश जी कुबेर, भारतीय मजदूर संघ के ब्रजेश जी, अरविन्द मोघे, विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के कार्यकर्ता सम्मिलित हुए, दिल्ली से उनके परिजन भी उपस्थित थे.

श्रद्धांजलि कार्यक्रम 11 नवंबर 2018 को सायं – 4.00 बजे वनवासी कल्याण आश्रम, गायत्री मंदिर के पास, महाराणा प्रताप नगर, जोन-1 में रहेगा.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × five =