भारत और धर्म के विरुद्ध चल रहे षड्यंत्रों का प्रतिकार करने के लिए सोशल मीडिया एक सशक्त माध्यम – राजीव मल्होत्रा

‘वैल्यू मस्ट, नेशन फर्स्ट’ इस टैग लाइन के साथ टीम Weapon द्वारा एक दिवसीय “सोशल मीडिया कॉन्क्लेव” का आयोजन रविवार 01 जुलाई को अग्रवाल पी जी कॉलेज जयपुर में किया गया। जिसमें देश के प्रतिष्ठित रक्षा विशेषज्ञ, लेखक, पत्रकार, समाजसेवी, तकनीक विशेषज्ञ एवं सोशल मीडिया के जाने-माने चेहरे एवं प्रबुद्धजनों ने भाग लिया।
 इस आयोजन के पीछे उद्देश्य रहा कि सोशल मीडिया पर अफवाहों की बजाय गंभीर कंटेंट आए तथा इस सशक्त माध्यम की विश्वसनीयता बरकरार रहे।
कॉन्क्लेव में जाने-माने रक्षा विशेषज्ञ रिटायर्ड मेजर जनरल जी डी बक्शी, ब्रेकिंग इंडिया व बीइंग डिफरेंट जैसी बेस्टसेलर्स के लेखक राजीव मल्होत्रा, समाजसेवी जे. नंदकुमार, वरिष्ठ पत्रकार संध्या जैन, न्यूज एंकर चित्रा त्रिपाठी, सायबर एक्सपर्ट रक्षित टंडन एवं सोशल एक्टिविस्ट अम्बर जैदी वक्ता अथितियों के रूप में मौजूद रहे।
कॉन्क्लेव का शुभारंभ प्रातः 9:30 पर ‘अथ’ शीर्षक से हुआ जिसमें प्रसिद्ध लेखक, चिंतक राजीव मल्होत्रा ने  भारत और धर्म के विरुद्ध चल रहे षड्यंत्रों का प्रतिकार करने के लिए सोशल मीडिया को एक सशक्त माध्यम बताया।
इसके बाद मेजर जनरल जी. डी. बक्शी ने सभागार को संबोधित करते हुए दर्शकों में उत्साह का संचार कर दिया। इस दौरान सभागार, भारत माता की जयकार से गूंज उठा।
दूसरे सत्र में जाने-माने पत्रकार प्रताप राव ने 5 अतिथि वक्ताओं – मेजर जनरल जी डी बक्शी, चित्रा त्रिपाठी, संध्या जैन, अम्बर जैदी व रक्षित टंडन के साथ उनके विशेषज्ञता क्षेत्रों पर सोशल मीडिया के प्रभाव की चर्चा की।
कॉन्क्लेव के उत्तरार्ध में ‘मंथन’ शीर्षक से 10 समानांतर सत्र आयोजित हुए, जिनमें कंटेंट राइटिंग, फोटोग्राफी एवं एडिटिंग, कार्टून एवं एनीमेशन, पोस्टर डिजाइनिंग एवं पेंटिंग, विडियो एडिटिंग, लाइव स्ट्रीमिंग, मीडिया प्रमोशन, डाटा बैंक और सोशल मीडिया में प्रभावपूर्ण प्रस्तुतीकरण के संबंध में जानकारी दी गई।
कार्यक्रम के चौथे व अंतिम सत्र में प्रख्यात समाजसेवी व प्रज्ञा प्रवाह के संस्थापक जे. नंदकुमार ने समसामयिक परिदृश्य में सोशल मीडिया की भूमिका को गहराई से समझाया।
कॉन्क्लेव की पूर्व संध्या पर मेजर जनरल जी. डी. बक्शी ने कश्मीर मुद्दे पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए भारत की अखंडता को अक्षुण्ण रखने में भारतीय सेना की भूमिका की प्रशंसा की।
इसके बाद पब्लिक टॉक में मीडिया कन्वीनर, वेपन: तनया गड़करी से परिचर्चा करते हुए लेखक राजीव मल्होत्रा ने अपने विचारों व संस्कृति शोध पर आधारित कार्यों को विस्तार से समझाया।
सोशल मीडिया कॉन्क्लेव के आयोजन में विश्व संवाद केंद्र जयपुर की भूमिका सहयोगी आयोजक की रही।
image1DSC_1758 DSC_1703DSC_1664

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 − one =