भारत में बौद्धिक आतंकवाद – जे नंदकुमार जी

DSC_0058DSC_0053

इंदौर। रा.स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख श्री जे.नंदकुमार ने कहा कि कला क्षेत्र में एक आतंकवाद चल रहा है, जो पाश्चात्य संस्कृति से प्रेरित है. इसका प्रभाव भारत में फिल्मों और कलाओं पर भी है। श्री जे.नंदकुमार जी 6 दिसंबर को इंदौर में चित्र भारती फिल्मोत्सव के कार्यालय के उद्घाटन कार्यक्रम में बोल रहे थे।
जे नंदकुमार जी ने कहा कि वर्तमान में भारत में बौद्धिक आतंकवाद चल रहा है. केरल के एक कलाकार ने ‘प्रिय मानसम्’ फिल्म निर्माण की थी. इसे फिल्म महोत्सव में दिखाया जाना था, परंतु केरल में बौद्धिक आतंकवाद के चलते इस फिल्म को धर्मनिरपेक्ष नहीं माना गया और फिल्म का प्रदर्शन नहीं करने दिया।
इस मौके पर श्री जे.नंदकुमार जी ने चित्र भारती फिल्म फेस्टिवल की वेबसाइट का लोकार्पण भी किया। कार्यक्रम में कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय रायपुर के कुलपति डॉ. मानसिंग परमार, सह आयोजक देवी अहिल्या विश्वविद्यालय इंदौर के कुलपति डॉ. आशुतोष मिश्रा सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।
‘चित्र भारती फिल्मोत्सव’ 26 फरवरी को
भारतीय कला—संस्कृति से जुडी फिल्मों का निर्माण करनेवाले कलाकारों को मंच प्रदान करने का कार्य चित्र भारती कर रही है.उन्हें दिशा देने के उद्देश्य से 26, 27, 28 फरवरी को इंदौर में’चित्र भारती फिल्मोत्सव’ का आयोजन किया जा रहा है जिसके देवी अहिल्या विश्वविद्यालय सह—आयोजक है।

You may also like...

1 Response

  1. Keshav Gupta says:

    For more detail visit event’s official website http://www.chitrabharatifilmfest.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 − 17 =