भीख में एकत्रित राशि सैनिक परिवारों के सहायतार्थ दान

जयपुर (विसंकें).  पुलवामा आतंकी हमले के पश्चात पूरा देश सेना व सुरक्षा बलों के साथ खड़ा है. हमले में वीरगति को प्राप्त सैनिकों के परिवारों की सहायता हेतु दिल खोलकर सहयोग कर रहा है. अपने सामर्थ्य के अनुसार समाज का हर वर्ग योगदान दे रहा है. अजमेर की देवकी देवी द्वारा एक-एक रुपए कर संजोयी राशि शहीद परिवारों के सहायतार्थ दान कर दी. 6 लाख 61 हजार 600 रुपये की राशि का डीडी अजमेर के जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा को सौंपा.

आइये देवकी देवी के बारे में जानते हैं. देवकी देवी अजमेर में जय अम्बे माता मंदिर बजरंग गढ़ के बाहर बैठती थीं, और लंबे समय से मंदिर आने जाने वालों से भीख मांगकर अपना जीवन यापन करती थीं. प्रतिदिन की एकत्रित राशि में से आवश्यकता अनुसार कुछ खर्च कर या कभी पूरी राशि में ही जमा करवा देती थीं. और देवकी देवी के मन में केवल एक ही इच्छा थी कि उसकी मृत्यु के पश्चात यह एकत्रित राशि किसी अच्छे कार्य में, देश के काम में खर्च हो. बूंद-बूंद कर घड़ा भरता गया यानि थोड़ा-थोड़ा कर एकत्रित राशि लाखों में पहुंच गई.

देवकी देवी ने मंदिर के बाहर भीख में मिलने वाले एक-एक, दो-दो रुपए एकत्रित करती थीं. अतिरिक्त राशि को संदीप गौड़ व अंकुर अग्रवाल के माध्यम से बैंक ऑफ बड़ोदा के खाते में जमा करवा देती थीं. छह माह पहले देवकी देवी की मृत्यु हो गई थी, देवकी देवी ने देवकी देवी ने दोनों के समक्ष इच्छा व्यक्त की थी कि इस राशि का उपयोग अच्छे कार्य में हो. यह राशि छह लाख रुपए से अधिक हो गई थी. संदीप गौड़ ने बताया कि देवकी देवी की मृत्यु के पश्चात समझ नहीं आ रहा था कि इस राशि का उपयोग कहां किया जाए. पुलवामा आतंकी हमले के पश्चात देश सैनिक परिवारों के लिए योगदान दे रहा था, तो उन्हें भी लगा कि इससे अच्छा कार्य और क्या हो सकता है. अन्य लोगों के साथ चर्चा कर 6,61,600 रुपए कुल एकत्रित राशि को सैनिक परिवारों के लिये देने का निर्णय लिया. इस निर्णय के पश्चात कुल राशि का डिमांड ड्राफ्ट जिला कलेक्टर को सौंपा. जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा ने भी निर्णय की सराहना की.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 − 3 =