लोगों ने जाना हिंदू जीवन पद्दति का भाव, पांच दिवसीय हिन्दू आध्यात्मिक एवम् सेवा मेला सम्पन्न

HSSF की गतिविधियाँ सनातन संस्कृति की जड़ों की ओर जाने का सार्थक प्रयास – दयानंद भार्गव

देशभक्ति की भावना हमारे व्यवहारिक जीवन का हिस्सा होना जरुरी – दाती महाराज

विसंके जयपुर। जयपुर में चल रहा तीसरा हिन्दू आध्यात्मिक एवम् सेवा मेला  सोमवार सम्पन्न हुआ। अम्बेडकर सर्किल स्थित एस.एम.एस. इन्वेस्टमेंट ग्राउंड में शाम को समापन समारोह हुआ, जिसमें मुख्य अतिथि शनिधाम के दाती महाराज एवम् अति विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार दयानन्द भार्गव ने संबोधित करते हुए कहा कि HSS फेयर के माध्यम से समाज में छः थीम आधारित कॉन्सेप्ट वास्तव में क्रांतिकारी परिवर्तन का माध्यम बनता जा रहा है जो देश प्रदेश के आलावा कई देशों में भी कार्य कर रहा है जो अपने आप में बहुत बड़ी उपलब्धि है । दयानंद भार्गव ने कहा कि सम्पूर्ण सृष्टि में भरतीय जीवन पद्दति सर्व श्रेष्ठ है जो सम्पूर्ण दुनिया के लिए शोध का विषय है लेकिन हमारे लिए यह जीवन शैली सामान्य व्यवहार में है।

समापन समारोह में परम्परा गत खेलों एवम् विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओ, वन्देमातरम गान और सेवा मेले की सभी व्यवस्थाओं के प्रभारियों, कार्यकर्ताओं का सम्मान किया गया। समापन समारोह के अवसर पर सैंकड़ों विद्यालयों के हजारों बच्चों के मध्य सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ जिसमें विभिन्न विद्यालयों एवम् संस्थाओं के बच्चों ने देश भक्ति एवम् मनोरंजक कार्यक्रम तथा थीम आधारित लघु नाटिकाओं का मंचन हुआ जो समाज को सकारात्मक विचारो एवम् जन जागरण का सन्देश देने का सार्थक प्रयास था। इस अवसर पर मोहनलाल मोरवाल, शिवलहरी, कन्हैया लाल बैरवाल सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

पांच दिवसीय हिन्दू आध्यात्मिक एवम् सेवा मेले का समापन

पांच दिवसीय हिन्दू आध्यात्मिक एवम् सेवा मेले का समापन

HSS Fair (2) HSS Fair (3)

परम वीर वंदन एवम् भारत माता वंदन से दिया देश भक्ति का सन्देश

जब शहीदों की शहादत को नमन कर उनके परिवारों का सम्मान किया तो सारा वातावरण भारत माता एवं वन्देमातरम की जय के उदघोष से गुंजायमान हो उठा, देश भक्ति की हुंकार भर, देश भक्ति से सरोबार हो गया। हिन्दू आध्यत्मिक एवम् सेवा फाउंडेशन के अंतिम दिवस पर प्रातः 10 बजे परमवीर वंदन एवम भारत माता वंदन कार्यक्रम हुआ जिसमें शनिधाम के दाती महाराज ने दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की उन्होनें कहा कि भारत माता के वीर सपूतों की शहादत को नमन करना हम सभी का परम दायित्व है। हमें मातृ भूमि की सेवार्थ कार्य करते रहना चाहिंए।

इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक गुणवंत सिंह कोठारी ने कहा कि वीर सपूतों की शहादत तभी सार्थक होगी जब हम भी शहीदों के परिवारों को मान सम्मान देंगे। इस अवसर पर HSS फेयर के उपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि भारत माता के चरणों में राष्ट्रीय सेवा के लिए हमें हमेशां तत्पर रहना चाहिए तभी हमारे देश में राष्ट्रीय भक्ति एवम् देश भक्ति का संचार होगा । इस अवसर पर अद्वैतचरण समाजसेवी अशोक पाटनी, नीरज लुणावत,मेजर एस.एन. माथुर, जनरल जगजीत सिंह, मेजर जे. एस.बुंदेला एवं सेना से जुड़े कई परिवारों  के साथ  गणमान्य लोग उपस्थिति थे।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ आधारित नुक्कड़ नाटिका का हुआ मंचन

मेले में ह्यूमन केयर सोसाइटी द्वारा ” बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ ” एवं “नारी सशक्तिकरण” के विषय पर नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया  नुक्कड़ नाटक का उद्देश्य इस विषय पर आमजन को जागरूक करना तथा नारी के प्रति सम्मान एवं आदर भाव पैदा करना है।

गंगा भूमि वंदन से दिया पर्यावरण संरक्षण का सन्देश

सेवा मेले में पारिस्थितिकी एवम् पर्यावरण संरक्षण हेतु धरती माता नदियों एवम् प्रकृति के प्रति सम्मान हेतु गंगा भूमि वंदन भी हुआ और सायंकाल वेला में गागा माता की आरती की गई मेला स्थल पर स्थापित माँ गंगा की भव्य झांकी सजाई गई जिसमें हरिद्वार से लाया गया पवित्र गंगा जल प्रवाहित कर माँ गंगा की महा आरती की गई जिसमें हजारों लोगो ने हर की पौड़ी पर होने वाली आरती का प्रतिरूप देखा। सभी को गंगाजल एवम् प्रसाद वितरण भी किया गया। इस अवसर पर बाल कलाकार आकांशा, वर्षा एवम् तबला वादक सिदार्थ ने गंगा मैया के भजन प्रस्तुत कर सबका मन मोह लिया । कार्यक्रम के अंत में सभी ने गंगा मैया के जयकारे लगाए ।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − thirteen =