वरिष्ठ प्रचारक डॉ. सत्यपाल जी का 93 वर्ष की आयु में निधन

हिमाचल प्रांत के वरिष्ठ प्रचारक डॉ. सत्यपाल जी का कल  दोपहर 12 बजकर 45 मिनट पर कांगड़ा के गुप्त गंगा संघ कार्यालय में निधन हो गया. सत्यपाल (93 वर्षीय) जी लम्बे समय से अस्वस्थ चल रहे थे और कांगड़ा संघ कार्यालय में ही उपचाराधीन थे. 01 अगस्त 1924 को जन्मे डॉ. सत्यपाल जी मूलतः पंजाब के पटियाला जिला से संबध रखते थे. उनके पिता विष्णुदेव जी पेशे से वकील थे. सत्यपाल जी की मात्र 6 वर्ष की आयु में ही उनके पिता जी का देहान्त हो गया. सत्यपाल जी इकलौते पुत्र थे. उनकी एक बहन थी, जिनका विवाह कोलकत्ता में हुआ था, लेकिन 2003 में उनका भी देहान्त हो गया था.

डॉ. सत्यपाल जी एक जुझारू, कर्मठ, सत्यवादी एवं प्रभावशाली व्यक्तित्व के धनी थे. उन्होंने अपने जीवनकाल में कई स्वयंसेवकों को घड़ा और प्रचारक जीवन अपनाने के लिये प्रेरित किया. डॉ. सत्यपाल जी जैसा व्यक्तित्व समाज को बिरला ही मिलता है. उनके जाने से निश्चित रूप से संघ परिवार को क्षति हुई है. समस्त संघ परिवार ने दिवंगत आत्मा को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए ईश्वर से प्रार्थना की कि दिवंगत आत्मा को श्रीचरणों में स्थान प्रदान करे.

डॉ. सत्यपाल जी होम्योपैथिक डॉक्टर थे. सत्यपाल जी का बाल्यकाल में ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से संपर्क हुआ और वर्ष 1944 में संघ के प्रचारक बने. पठानकोट के साथ नरोट जैमल सिंह से उन्होंने प्रचारक जीवन शुरू किया. वर्ष 1946 में वे हिमाचल प्रांत के सुजानपुर में प्रचारक रहे. सन् 1948 में प्रतिबंध के समय कुल्लू में भूमिगत होकर उन्होंने संघ का काम किया. इसके बाद सन् 1960 में पंजाब के मानसा जिले में प्रचारक रहे. सन् 1963 में सिरसा में प्रचारक के रूप में दायित्व निभाने के बाद 1975 में आपातकाल से पूर्व दिल्ली संघ कार्यालय में रहे. इसके बाद वे एक बार पुनः हिमाचल प्रांत में कुल्लू ज़िला प्रचारक रहे. वर्ष 1983 से सोलन विभाग प्रचारक रहने के बाद, वर्ष 1993-94 में डॉ. सत्यपाल जी हिमगिरी प्रांत (हिमाचल संभाग व जम्मू कश्मीर संभाग) के प्रांत प्रचारक प्रमुख रहे. सन् 1994 से अब तक कांगड़ा संघ कार्यालय गुप्त गंगा में ही रह रहे थे.

डॉ. सत्यपाल जी का अंतिम संस्कार शाम को कांगड़ा ज़िला संघ कार्यालय गुप्त गंगा के समीप किया जाएगा.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 3 =