समाज के सहयोग से संघ राज्य को हरा-भरा करने का प्रयास करेगा

इस वर्ष लगेंगे छह treeलाख पौधे

पौधों के सार-सम्भाल का जिम्मा भी तय होगा

हर वर्ष चलेगा अभियान

अपना संस्थान के बैनर तले चलेगा अभियान

जयपुर, 27 मई। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ समाज को साथ लेकर राज्य में बड़े पैमाने पर पौधे लगाएगा। उनकी

देखभाल करेगा और वृक्षों के रूप में उन्हें विकसित कर राज्य को हरा-भरा करने का प्रयास करेगा। हर वर्ष मानसून में

पौधे रोपे जाएंगे और सालभर सार-सम्भाल की जाएगी। इस वर्ष मानसून में राजस्थानभर में छह लाख पौधे लगाए

जाएंगे। संघ ने योजना को धरातल पर उतारने के लिए मोहल्ला विकास समितियों और ग्राम विकास समितियों से

सम्पर्क करना शुरू कर दिया है।

पिछले साल 30 सितम्बर को पेरिस में हुई 'जलवायु परिवर्तन के दुष्परिणाम' विषयक बैठक में 195 देशों के

प्रतिनिधियों द्वारा जलवायु परिवर्तन से होने वाले प्राकृतिक प्रकोप और उसके नुकसानों पर चिंता व्यक्त करने के

बाद रांची में संघ के अखिल भारतीय कार्यकारी मण्डल की बैठक हुई थी जिसमें भी पर्यावरण संरक्षण विषय पर

चिंतन—मंथन हुआ था। बैठक के दौरान संघ के सहसरकार्यवाह डॉ.कृष्ण गोपाल जी ने राजस्थान से पहुंचे

प्रति​निधियों से क्षेत्र में पर्यावरण की दृष्टि से सार्थक कार्ययोजना बनाने की बात कही थी। इस वर्ष 3 जनवरी को

अजमेर के किशनगढ में आयोजित प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक में राजस्थान में इसी सत्र से सघन पौधारोपण करने

का निर्णय लिया गया। इसके लिए अमृतादेवी पर्यावरण नागरिक संस्थान (अपना संस्थान) नामक संस्था का गठन

किया गया।

अपना संस्थान ने सघन पौधारोपण की योजना बनाई है जिसके तहत इस साल छह लाख पौधे रोपने का लक्ष्य है।

छायादार और फलदार पौधे लगाए जाएंगे। पौधे रोपने के साथ पौधे वृक्ष कैसे बने इसकी भी अपना संस्थान ने कारगर

योजना तैयार कर ली है।

योजना के तहत पौधारोपण को जन—जन का अभियान बनाया जाएगा। इसके ​तहत कार्यकर्ता अपने—अपने क्षेत्र में

कार्य कर रहे सामाजिक संगठनों, संस्थाओं एवं समितियों से सम्पर्क कर रहे हैं। अभियान से शिक्षण संस्थानों को भी

जोडा जाएगा। अधिकांश स्थानों पर 5 जून को गड्ढे खोदे जाएंगे। इसके बाद गड्ढों को खुला छोडा जाएगा। मौसम की

अच्छी बरसात आने पर गड्ढों में पौेधे रोपे जाएंगे। 2 अगस्त हरियाली अमावस्या और 12 सितम्बर को अमृतादेवी

बलिदान दिवस पर सघन पौधारोपण करने की योजना है। स्वयंसेवकों के प्रयासों से अनेक स्थानों पर पौधे तैयार

करने का कार्य प्रारंभ हो गया है।

अमृता देवी हमारी प्रेरणा

राजस्थान पहले भी प्रकृति संरक्षण का संदेश दे चुका है। करीब तीन सौ वर्ष पहले जोधपुर के निकट खेजड़ी गांव से

वृक्षों की रक्षा के लिए बलिदान देने का संदेश पूरी दुनिया में गया था। तब स्थानीय राज्य की ओर से खेजडी वृक्षों को

कटवाने का आदेश जारी हुआ था। खेजडी ग्रामवासी संत जाम्भोजी के बीस और नौ नियम माननेवाले विश्नोई थे

जिनके लिए प्रकृति संरक्षण प्राणों से भी बढ़कर था। राज्य के कारिंदे सबसे पहले अमृता देवी के घर के पास लगे

खेजडी वृक्ष को काटने लगे तो अमृता देवी ने वृक्ष को अपना भाई बताते हुए वृक्ष काटने का विरोध किया और वृक्ष से

लिपट गईं। वे पहली महिला थीं जो वृक्ष के साथ कट गईं। उसके बाद उनसे प्रेरणा पाकर उनका पूरा परिवार और

आस—पास के गांवों के 363 पुरुष, महिला और बच्चे एक के बाद एक वृक्षों के साथ कट गए। संघ ने अभियान के लिए

अमृता देवी के नाम से अमृतादेवी पर्यावरण नागरिक संस्थान (अपना संस्थान) संस्थान बनाया है।

हर साल पौधारोपण

अपना संस्थान की ओर से यह पौधारोपण कार्यक्रम निरंतर जारी रहेगा। इस सत्र में छह लाख पौधे लगाए जाएंगे।

—विनोद मैलाना, सचिव, अपना संस्थान, राजस्थान क्षेत्र

जयपुर में उद्घाटन

अपना संस्थान की ओर से जयपुर शहर में चार स्थानों पर वृक्षारोपण महाअभियान को लेकर विभिन्न कार्यक्रम

आयोजित किये जा रहे हैं। अंबावाडी स्थित उच्च माध्यमिक बालिका आदर्श विद्या मंदिर में 28 मई प्रात: 6.30 बजे

वृक्षारोपण महाअभियान उद्घाटन कार्यक्रम एवं पर्यावरण संरक्षण संगोष्ठी का आयोजन होगा। उद्घाटन कार्यक्रम

के मुख्य वक्ता अपना संस्थान, राजस्थान क्षेत्र के सचिव विनोद मैलाना होंगे जबकि मुख्य अतिथि सीआरपीएफ

जयपुर के डीआईजी वीएस शर्मा होंगे। अध्यक्षता अतिरिक्त पुलिस आयुक्त, जयपुर दक्षिण करण शर्मा रहेंगे।

मानसरोवर स्थित आदर्श विद्या मंदिर में 29 मई प्रात: 7 बजे इस अभियान का उद्घाटन कार्यक्रम है जिसमें

​राजस्थान सरकार में मंत्री वासुदेव देवनानी, राजपालसिंह, अरूण चतुर्वेदी एवं विधायक घनश्याम तिवाड़ी भी हिस्सा

लेंगे।

सांगानेरी गेट स्थित अग्रवाल कॉलेज में 1 जून प्रात: 7 बजे क्षेत्र के सामा​जिक संगठन, संस्थान एवं समिति के

पदाधिकारियों की बैठक रखी है जिसमें करीब पांच सौ लोग हिस्सा लेंगे। बैठक में पौधारोपण अभियान की विस्तृत

जानकारी दी जाएगी।

इसी प्रकार 29 मई प्रात: 9 बजे मालवीय नगर सेक्टर 2 स्थित राजकीय विद्यालय में कार्यक्रम आयोजित होगा

जिसके मुख्य अतिथि राजस्थान के वन पर्यावरण व खनिज राज्य मंत्री राजकुमार रिणवॉ होंगे। आईएएस केवी

गुप्ता, आईएफएस डी.सी.शर्मा, मेडिकल कॉलेज प्राचार्य यूएस अग्रवाल, उद्यान समिति नगर निगम की अध्यक्षा

विमलेश मीणा भी उपस्थित रहेंगे।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 1 =