सेवाकार्य सकारात्मक और निःस्वार्थ भाव से करें – भय्या जी जोशी

nagpur-300x198 राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ नागपुर महानगर के अजनी भाग में चल रहे सेवा कार्यों का प्रस्तुतीकरण “सेवा दर्शन” कार्यक्रम संपन्न हुआ. सेवा कार्य से जुड़े परिवार अर्थात् सेवादाता व लाभार्थी. सेवा कार्य में अपना समय देने वाले महानुभावों का अनुभव कथन और सत्कार, लाभार्थी का अनुभव कथन, तथा संस्कार वर्ग के बच्चों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतीकरण हुआ.

सेवा दर्शन कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह सुरेश भय्या जी जोशी ने लोक कल्याण समिति के कार्यों का उल्लेख करते हुए कहा कि सेवा करने की इच्छा रखने वाले लोग समाज में हैं. उनकी इच्छा भी रहती है, परन्तु मार्ग दिखाने वाला चाहिए. हर कोई, प्रामाणिक सेवा प्रदान करने वाला कोई मिले ऐसी सोच रखता है. भारत में कई प्रकार के व्याप्त उपेक्षित स्वभाव को, दूरी को ऐसे निःस्वार्थ सेवा कार्य से ही दूर किया जा सकता है. छोटी-छोटी बातों को सिखाने से परिवर्तन आता है, जरुरी नहीं जो हमें आसान लगता है वो दूसरों को भी आसानी से समझ में आ जाए. इसलिए सेवा कार्य करते समय हमें परिस्थिति और मनःस्थिति दोनों को समझ कर आगे बढ़ना पड़ता है. सेवा कार्य करना अर्थात् प्रत्यक्ष अनुभव लेने का कार्य है. और हमारी मान्यता है कि हरेक मनुष्य ईश्वर स्वरुप है तो आने वाले समय में सेवा कार्य सकारात्मक और निःस्वार्थ भाव से करें. समाज इसमें अधिकाधिक जुड़े. सेवा कार्य, भाषण करने, कथावाचन करने जैसा नहीं है, प्रत्यक्ष अनुभव लेना ही सेवा है.

अजनी भाग के अंतर्गत आने वाले नगर – हनुमान नगर, रामेश्वरी नगर, ओमकार नगर, और नरेन्द्र नगर में शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वावलंबन तथा संस्कार के क्षेत्र में चलने वाले सेवा कार्य समाज के सहयोग से निःस्वार्थ भाव से सफलतापूर्वक चल रहे हैं. नरेन्द्र नगर में स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में – कुल 7 प्रकल्प चलाए जा रहे हैं. आयुर्वेद, एलोपैथी, होम्योपैथी, ब्लड शुगर जांच शिविर आयोजित किये जाते हैं. चिकित्सा क्षेत्र में ख्याति प्राप्त 12 चिकित्सक अपनी सेवा इन प्रकल्पों पर देते हैं. साथ ही इन प्रकल्पों में सहायक की भूमिका में महिला और पुरुष निःस्वार्थ भाव से अपनी सेवा प्रदान कर देश के स्वास्थ्य को सुदृढ़ करने में अपना बहुमूल्य योगदान देते हैं. इन सभी स्वास्थ्य प्रकल्पों में प्रति वर्ष 6500-7000 लोग लाभान्वित होते हैं. स्वावलंबन के क्षेत्र में निवेदिता सिलाई प्रशिक्षण केंद्र प्रभुनगर में है तो शिक्षा के क्षेत्र में कई झोला पुस्तकालय और अभ्यासिका चलाए जा रहे हैं. संस्कार के क्षेत्र में हर वर्ष गर्मी की छुट्टियों में संस्कार केंद्र सफलता पूर्वक चलाए जाते हैं.

“सेवा दर्शन” कार्यक्रम में सरकार्यवाह भय्या जी जोशी, राम जी हरकरे (विदर्भ प्रान्त संघचालक), राजेश जी लोया (नागपुर महानगर संघचालक), श्रीधर जी गाडगे (नागपुर महानगर सह संघचालक), डॉ. दिलीप जी गुप्ता (अध्यक्ष, लोक कल्याण समिति), सुभाषचंद्र जी देशकर (अजनी भाग संघचालक) उपस्थित थे.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − ten =