सेवा से स्त्री बनेगी स्वयंसिद्धा -सेवा भारती

7ddf0729-ed91-4319-a2d3-ec8a3799fe04जयपुर (विसंके)। सेवाभारती समिति राजस्थान के जयपुर महानगर के 29 नगरों से महिला मण्डल द्वारा सेवा क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़े व प्रत्यक्ष सेवा के कार्य से उनका जुड़ाव हो सके इस हेतु स्वयंसिद्धा कार्यषाला का आयोजन सेवा भारती कार्यालय, सेवा सदन में किया गया।

विषय प्रस्तोता- मूलचन्द सोनी, डॉ. अमला बत्रा तथा रेणु वशिष्ठ द्वारा महिलाओें से भारतीय अवधारणा में महिला विषयक चिंतन तथा महिलाओं में नेतृत्व क्षमता के विकास को विकसित करने पर बातचीत की गयी। उन्होंने महिलाओं को निरन्तर सेवा कार्य करने के लिये प्रोत्साहित किया।

737e8fc9-0ad5-4b33-a90e-2ac53c765ac0चार भागों की लगभग 120 महिलाओं ने इस कार्यशाला में हिस्सा लिया। कार्यशाला में हिस्सा लेने वाली महिलाओं से बात करने पर पता चला कि सेवा भारती के साथ कार्य करने पर वे आत्मनिर्भर बनी है, उनका सशक्तिकरण हुआ है तथा सेवा कार्य करने में पहले से अधिक रुचि हुई है तथा संतुष्टि भी मिली है। टोडी हरमाडा की संयोजिका से बात करने पर उन्होंने बताया कि बच्चों को पढ़ाने के साथ साथ उनके स्वयं के ज्ञान में भी वृद्धि हुई है। आयोजन का संचालन डॉ. राकेश शुक्ला तथा अनिल शुक्ला द्वारा आभार व्यक्त किया गया।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − 2 =