स्वतन्त्रता दिवस पर शहीदों को किया याद

विसंके जयपुर। राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ भरतपुर द्वारा आजादी की सत्तर वी वर्षगाढ के अवसर पर यातायात चौराहे पर स्थित महाराजा सूरजमल स्मारक पर शहीदो को पुष्पांजली कार्यक्रम का अयोजन किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला सैनिक कल्याण अधिकारी श्री सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि बहुत लम्बे एवं कष्टकार संघर्षो के बाद हमें आजादी प्राप्त हुई है, इस आजादी के लिये हमारे देश के अनेक क्रातिंकारियों ने अपने जीवन की आहुती दी है। इस आजादी की लडाई में अनेक ऐसे गुमनाम योद्धा भी थे जिन्होंने अनेकानेक यातनाएं सह कर आजादी का मार्ग प्रशस्त किया, आज ऐसे गुमनाम योद्धाओं का नाम कहीं भी अंकित नहीं है।

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ, भरतपुर महाराजा सूरजमल स्मारक पर शहीदो को पुष्पांजली कार्यक्रम का अयोजन

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ, भरतपुर महाराजा सूरजमल स्मारक पर शहीदो को पुष्पांजली कार्यक्रम का अयोजन

C 1 (2) C 1 (3) C 1 (6)मुख्य अतिथि ने युवाओ का आव्हान किया कि वे इस आजादी के महत्व को समझे एवं इसे सम्भाल कर रखें, उन्होने कहा कि भारत को यदि एक सबल और सफल राष्ट्र बनाना है तो हमें हमारे काम में ईमानदारी लानी होगी, अर्थात हम जो भी काम करे वो पूर्ण ईमानदारी निष्ठा से करें। जब हर व्यक्ति अपने कार्य को पूर्ण मेहनत और लगन से करेगा तो कोई भी ताकत भारत को परम वैभव तक पहुंचने से नहीं रोक सकेगी।

कार्यक्रम के अध्यक्ष राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के अखिल भारतीय शारीरिक टोली के सदस्य श्री रामचन्द्र जी पांडेय ने कहा कि हमें आजादी तो मिल गयी किन्तु आज का युवा आजादी के महत्व को नहीं समझता और इसके पीछे जो कारण है वह यह कि हमारे युवा को घुट्टी की तरह रटाया गया है कि हमें आजादी बिना खडग और बिना ढाल के मिली है, आज युवा को लगता है कि हमें बहुत ही आसानी से आजादी मिल गयी है और इसीलिये वो आजादी का मोल नहीं समझता है। इसके लिये जरुरी है कि हम अपने युवाओ को आजादी का सही इतिहास बताये और पढायें। इस अवसर पर अध्यक्ष पाडेय ने स्वयंसेवकों का आव्हान किया कि वे आजादी के नायको के चरित्र को अपने में ढालने का प्रयास करें क्योंकि भारत को वास्तविक आजादी तभी मिलेगी जब हमारे समाज से छुआछूत, गरीबी, भ्रष्टाचार, क्षेत्रवाद, भाषावाद आदि का अन्त न हो जाये।

कार्यक्रम के प्रारम्भ में अतिथियों द्वारा भारत माता एवं महाराजा सूरज मल की प्रतिमा पर पुष्पहार पहनाया गया। राष्ट्र ध्वज को सलामी दी गयी। सभी आगन्तुको द्वारा भी शहीदों को पुष्पांजली अर्पित की गयी।

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ, भरतपुर की घोष वाहिनी द्वारा घोष की अनेक रचनाओं के वादन द्वारा शहीदों को याद किया गया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के पदाधिकारियों सहित नगर के अनेक गणमान्य नागरिकों ने भाग लिया।

आभार भरतपुर प्रचार विभाग

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 + ten =