हिन्दू समाज से अश्पृश्यता का समूल नाश होना चाहिए- प्रो. राकेश सिन्हा

जयपुर, 15 अप्रैल (विसंकें)। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ बीकानेर महानगर का अांबेडकर जयंती का कार्यक्रम  आज राजरतन पैलेस, रानी बाज़ार में मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में  बोलते हुए दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और आर एस एस विचारक राकेश सिन्हा ने भारतीय संस्कृति के बरक्स बाबा साहेब आंबेडकर के विचारों की व्याख्या की।
उन्होंने अश्पृश्यता को हिन्दू समाज से समूल नष्ट करने का आह्वान करते हुए भारतीय धर्म और चिंतन में वंचित समाज के योगदान का उल्लेख किया। प्रो. सिन्हा ने वाल्मीकि, वेदव्यास को मूल भारतीय दृष्टि का सृष्टा मानते हुए अनुसूचित समाज के हिन्दू धर्म में योगदान को अमूल्य बताया। ऊदा देवी और झलकारी बाई जैसी वंचित समाज की वीरांगनाओं को भारत माता की प्रतिकृति घोषित किया। बाबा साहेब अांबेडकर को भारत का राष्ट्र निर्माता ही नहीं भारतीय धर्म और बुद्धि को गहरे तक प्रभावित करने वाला महान नेतृत्वकर्ता कहा।
उन्होंने भारतीय समाज को विघटित करने वाली शक्तियों से सावधान रहकर डॉ अांबेडकर के पदचिन्हों पर चलने का आग्रह किया।
कार्यक्रम में बीकानेर महापौर नारायण चोपड़ा, डॉ. पी के बेरवाल एवं सुबोध गिरी जी महाराज उपस्थित थे।
3000 सर्व समाज बंधुओं के सहभोज का भी आयोजन हुआ।

image2 image1

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + 3 =