होगा गलताजी सहित पांच मंदिरों का विकास

—कृष्ण सर्किट परियोजना में राजस्थान के पांJaipur-Galtaji-2च मंदिर
—इन मंदिरों पर होंगे 98 करोड
—केन्द्र सरकार द्वारा ‘बजट’ पास
विसंकेजयपुर
जयपुर, 20 जुलाई। भक्तों के लिए अच्छे समाचार है। करोडों हिन्दुओं की आस्था के केन्द्र राजस्थान के आधा दर्जन मंदिर देशी—विदेशी सैलानियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए विकसित किये जाएंगे। केन्द्र सरकार ने संबंधित मंदिरों के ढांचागत विकास के लिए 98 करोड रूपये की राशि स्वीकृत कर दी है। इन मंदिरों का विकास कृष्ण सर्किट परियोजना के तहत होगा।
जानकारों के अनुसार राजस्थान के श्रीनाथ जी, गोविन्द देवजी, गलताजी, खाटूश्याम जी, चरण मंदिर, कनक वृंदावन आदि मंदिरों एवं पर्यटक स्थलों को कृष्ण सर्किट परियोजना में शामिल किया है। योजना के तहत यहां विश्व स्तर m2का ढांचागत विकास कराया जाएगा। यहां आॅडियो विजुअल और प्रोजेक्शन शो, सडकों, पर्यटक सहायता केन्द्र, फव्वारे, बाग—बगीचे तैयार किया जाएंगे। इसके अलावा रोशनी की उचित व्यवस्था की जाएगी। प्रकाश के लिए सौर लाइटों का भी उपयोग किया जाएगा। केन्द्र द्वारा 98 करोड स्वीकृति के साथ ही परियोजना पर काम शुरू हो चुका है।
ये स्थान भी शामिल
केन्द्र ने इस योजना में राजस्थान के साथ हरियाणा और गुजरात के मंदिरों और पर्यटक स्थालों को शामिल किया है। हरियाणा और गुजरात के मंदिरों पर 177 करोड रूपये खर्च किये जाएंगे। कुरूक्षेत्र और उसके आसपास के स्थल इस योजना में शामिल है। ज्योतिसर, ब्रह्रम सरोवर, नर्कातरी, बान—गंगा, अमीन,अभिमन्यु का टीला आदि स्थानों पर विकास कार्य होंगे, साथ ही महाभारत थीम पार्क का विकास भी कराया जाएगा।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × five =