‘चमक’ उठा रघुनाथ मंदिर

—निवारू का प्रसिद्ध रघुना7c6255f3-8990-4443-bb5d-6cf113c95798थ मंदिर
—करधनी नगर के स्वयंसेवकों ने की मंदिर परिसर की सफाई
विसंकेजयपुर
जयपुर, 27 जून। किसी ने सत्य ही कहा है कि देशभक्ति के लिए घर से दूर जाने की आवश्यकता नहीं है। अपने आस—पास के सार्वजनिक स्थानों की सारसंभाल करके भी यह कार्य अच्छी तरह से किया जा सकता है। इसके लिए हम सार्वजनिक सम्पत्तियों व स्थलों की सफाई भी कर सकते हैं। अगर हम ऐसा कर पाये तो हमारा हरइक स्थल स्वच्छ होगा, भारत ‘सुंदर’ होगा, ‘भारत’ स्वस्थ होगा।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, करधनी नगर के स्वयंसेवकों ने रविवार को यह कार्य किया। निवारू में भगवान रघुनाथ जी का प्रसिद्ध मंदिर है। मंदिर की दूर—दूर तक मान्यता है। हर शनिवार और रविवार को हजारों भक्त—लोग यहां दर्शन के लिए आते80eda08d-3514-4540-b9a5-d191d9337d11 हैं। भक्तों की मान्यता है कि मंदिर में हर शनिवार और रविवार को लगनेवाले झाण्डे से पीलिया रोग का इलाज होता है। d65a61ef-6b2f-42ec-96c4-492f46313a33इसी मान्यता के चलते इन दो दिनों में हजारों श्रद्धालु यहां पहुंचते हैं। लाखों हिन्दुओं की श्रद्धा का केन्द्र यह रघुनाथ जी का मंदिर स्वच्छ रहे इसी उद्देश्य से करधनी नगर के स्वयंसेवकों ने यहां सेवा कार्य करने की योजना बनाई। सैकडों स्वयंसेवक तय समय पर मंदिर पहुंचे और हाथों में झाडू लिए परिसर के सफाई अभियान में लग गए। किसी न झाडू लगाई तो किसी ने दीवारों पर लगी गंदगी साफ की। कोई कोनों में लगे मक्कडझाल साफ किए। प्रत्येक स्वयंसेवक निस्वार्थ बुद्धि से सेवा कार्य को पूरा करने में व्यस्थ था। देखते ही देखते स्वयंसेवकों के सं​गठित प्रयास से मंदिर परिसर में व्याप्त गंदगी साफ होने लगी। सेवा कार्य पूरा होने के बाद सत्संग रखा गया। स्वयंसेवकों ने ‘अयोध्या करती है आह्वान…’, ‘रामजी की सेना चली…’,’कभी राम बनके कभी श्याम बनके…’ जैसे अनेक भजनों की प्रस्तुतियां दी।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 + 4 =