ब्रिगेडियर गगनेजा की हत्या से हम दुखी हैं, परंतु निराश नहीं – डॉ. कृष्णगोपाल जी

पंजाब प्रांत के सह संघचालक ब्रि. गगनेजा जी को असंख्य लोगों ने दी श्रद्धांजलिpnjab

जालंधर (विसंकें). 22 सितंबर को स्वर्गवासी हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पंजाब प्रांत सह-संघचालक ब्रिगेडियर जगदीश गगनेजा जी के श्रद्धांजलि समारोह में असंख्य लोगों ने श्रद्धासुमन अर्पित किए. इस अवसर पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह जी ने लोगों को अश्वस्त किया कि गगनेजा जी के हत्यारों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा और उन्हें समुचित दंड भी मिलेगा. गगनेजा जी के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो को हत्याकांड की निष्पक्ष जांच करने को कहा है और शीघ्र परिणाम सामने आने की संभावना है. गगनेजा जी की हत्या के बाद से ही केंद्र सरकार राज्य सरकार के निरंतर संपर्क में है. उन्हीं की सिफारिश पर जांच केंद्रीय जांच एजेंसी को दी गई है.

समारोह में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि ब्रिगेडियर जगदीश गगनेजा जी का देहांत केवल संघ के लिए ही नहीं, बल्कि देश के लिए बड़ी क्षति है. इस तरह की घटनाएं हमें दुखी तो कर सकती हैं, परंतु निराश नहीं. पंजाब वीरों, भक्ति,शक्ति, मीरी-पीरी की धरती है. यह धरती तपस्वियों व बलिदानियों की है. गुरुओं-पीरों की इस धरती पर लोग अपने लिए नहीं, बल्कि दूसरों के लिए जीते हैं. संघ ने एकरस और समरस समाज का सपना देखा है और इसके लिए निरंतर प्रयास कर रहा है. इस प्रयास को तोड़ने के लिए पंजाब में कई बार संघ के स्वयंसेवकों पर हमले भी हुए. स्वयंसेवकों ने अपने प्राणों की आहूति दी, परंतु सांप्रदायिक सौहार्द पर आंच नहीं आने दी. हर तरह के आघात सह कर भी संघ अपने लक्ष्य की ओर निरंतर अग्रसर रहेगा.

पंजाब के उप-मुख्यमंत्री स. सुखबीर सिंह बादल जी ने कहा कि पंजाब ने अतीत में कई तरह के संकटों को झेला है, परंतु समाज की एकता, भाईचारा और सांप्रदायिक सौहार्द के चलते दुश्मनों की हर साजिश नाकाम हुई है. आज हमें फिर इसी एकता के बल पर समाज को तोड़ने वालों को परास्त करना है. वे जब भी गगनेजा जी से मिलते थे तो उनका दृष्टिकोण समाज कल्याण व देशहित के प्रति बिलकुल स्टीक व स्पष्ट रहता था. उनका मानना था कि वे हर हमला बर्दाश्त कर सकते हैं, परंतु देश पर कोई हमला बर्दाश्त नहीं होगा, चाहे इसके लिए हमें कितने भी बलिदान क्यों न देने पड़ें. पंजाब प्रांत के संघचालक स. बृजभूषण सिंह बेदी जी ने गगनेजा जी परिवार के साथ संवेदना प्रकट करते हुए सरकार से मांग की कि ब्रि. गगनेजा जी की हत्या की जांच राजनीति की भेंट नहीं चढऩी चाहिए और दोषियों को कानून अनुसार सजा मिलनी चाहिए ताकि असामाजिक तत्वों को सबक सिखाया जा सके.

समारोह को संघ के उत्तर क्षेत्र के संघचालक बजरंग लाल गुप्त जी, केंद्रीय मंत्री व भाजपा के पंजाब प्रदेश अध्यक्ष विजय सांपला जी, जम्मू-कश्मीर के संघचालक ब्रिगेडियर सुचेत सिंह जी, हरियाणा के संघचालक मेजर करतार सिंह जी, गगनेजा जी के पड़ोसी कर्नल बेअंत सिंह जी, लुधियाना विभाग के संघचालक फूलचंद जैन जी, डॉ. गुरप्रीत वांडर, महंत गंगादास जी ने भी संबोधित किया. दिवंगत गगनेजा जी के सपुत्र कर्नल राहुल गगनेजा जी ने परिवार की ओर से आए हुए लोगों का आभार जताया.

इस अवसर पर संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य अशोक प्रभाकर, उत्तर क्षेत्र के प्रचारक प्रमुख रामेश्वर, भाजपा के राष्ट्रीय संगठन मंत्री रामलाल, संघ के पंजाब प्रांत के कार्यवाह विनय कुमार जी, स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय संगठक कश्मीरी लाल जी,पंजाब प्रांत प्रचारक प्रमोद कुमार जी, भाजपा के प्रदेश प्रभारी प्रभात झा, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अविनाश राय खन्ना, महंत बंसी दास जी, महंत रमेशदास जी दातारपुर, महंत सूर्य प्रताप माछीवाड़ा, संत बलबीर सिंह सींचेवाल, स्वामी उमेशानंद जी, स्वामी चिन्मयानंद जी, स्वामी सजनानंद जी, संत निर्मलदास जी, ठाकुर दलीप सिंह जी राणिया हरियाणा, भैणी साहिब के प्रतिनिधि रछपाल सिंह, सुरेंद्र सिंह, उदेयन आर्य करतारपुर, सहित अनेक गणमान्य जन उपस्थित थे.

मंच संचालन प्रिंसिपल देसराज शर्मा, नरेंद्र शर्मा ने किया. इस अवसर पर गगनेजा जी की धर्मपत्नी सुदेश गगनेजा, बेटी कोमल चुघ, शीतल रामपाल, श्वेता गगनेजा, मोहित चुघ, डॉ. प्रशांत रामपाल,सहित अन्य परिजन उपस्थित थे. सभी उपस्थित लोगों ने दिवंगत आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन व पूर्णाहुति मंत्र के साथ श्रद्धांजलि दी.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten − eight =