अनुच्छेद 370 हटने का जश्न मनाने पर मुस्लिम युवकों ने की मारपीट

राजस्थान के कोटा के रामगंज मंडी में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने का जश्न मनाने पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक कार्यकर्ता की चार-पांच लोगों ने पिटाई कर दी. घायल कार्यकर्ता को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. रामगंज मंडी के उप निरीक्षक ने बताया कि घायल आरएसएस कार्यकर्ता को झालावाड़ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

संदीप गुप्ता के पिता ने शिकायत में बताया कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने का जश्न मनाने पर उनके बेटे पर हमला किया गया है. क्षेत्र में तीन दिन में दूसरी घटना है, लेकिन राजस्थान की कांग्रेस सरकार आंख मूंदे बैठी है. और न ही बुद्धिजीवियों को अब मॉब लिंचिंग दिखाई दे रही है.

संदीप गुप्ता के पिता ने पुलिस को दी शिकायत में कहा कि एक दिन पूर्व रामगंज मंडी में उनके पुत्र सहित अन्य नगरवासियों ने आर्टिकल 370 समाप्त होने पर जश्न मनाया था. जिस कारण वो कुछ लोगों की नजरों में था. दोपहर करीब ढाई बजे घर से खाना खाकर किसी काम के लिए बाहर गया था. इसी दौरान कुछ मुस्लिम लड़कों ने उसे घेर लिया तथा उसके साथ मारपीट की. किसी तरह उनसे बचकर भागा तो आगे अन्य लोगों ने पकड़कर मारपीट की. जिससे वह बेहोश हो गया था, करीब दो घंटे बाद होश आया. उन्हें (संदीप के पिता को) संदीप के मित्र राहुल ने फोन कर मारपीट की जानकारी दी. घायल संदीप को रामगंज मंडी अस्पताल ले जाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के पश्चात झालावाड़ के लिये रैफर कर दिया गया. संदीप के साथ अदनान, अल्ताफ, आकिब, अल्फेज़, आबिज़ व अन्य ने मारपीट की है. संदीप के सिर व पसलियों में चोट आई है.

जम्मू कश्मीर से धारा 370 व 35ए समाप्त होने के पश्चात क्षेत्र के लोगों ने जश्न मनाया था व आतिशबाजी की थी. जिसमें उनका बेटा भी शामिल था. इसी कारण आरोपी युवकों ने उसके साथ मारपीट की. घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है, संदीप गुप्ता के बयान दर्ज कर लिये हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पुलिस ने मारपीट में शामिल दो आरोपियों अल्ताफ व अल्फेज़ को गिरफ्तार कर लिया है, अन्य आरोपी अभी फरार हैं.

क्षेत्र में निरंतर हो रही ऐसी घटनाओं के कारण सामाजिक संगठनों में रोष बढ़ता जा रहा है. संगठनों ने सरकार से त्वरित कार्रवाई की मांग की है, अन्यथा उन्हें सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरना पड़ेगा.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve − six =