पुलिस कमिश्नर को सौंपा ज्ञापन, चारदरवाजा क्षेत्र के घरों में सर्च अभियान चलाने की मांग

जयपुर. वर्ल्र्ड हैरिटेज सिटी जयपुर में आए दिन हो रही साम्प्रदायिक घटनाओं से आमजन में भय का माहौल है तथा लोग पलायन करने को मजबूर हो रहे हैं. इंटरनेट सेवाएं बंद होने से व्यापार बाधित तथा कामकाज प्रभावित हो रहा है. ऐसे में उपद्रवियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए तथा हिन्दू समाज की सुरक्षा के लिए बस्तियों के आसपास पुलिस चौकी खोली जानी चाहिए. अपनी मांगों को लेकर शहर के प्रबुद्धजनों व व्यापार मंडल से जुड़े लोगों ने पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव को ज्ञापन सौंपा.

ज्ञापन में कहा है कि पहले शास्त्री नगर व झोटवाडा और अब ईदगाह, दिल्ली रोड व चारदरवाजा सहित अन्य क्षेत्रों में हिन्दू समाज के साथ हो रही मारपीट की घटनाओं से लोग भयग्रस्त व चिंतित हैं. पिछले दिनों झोटवाड़ा क्षेत्र के एक मंदिर में तोड़फोड़ की गई. शास्त्री नगर में वाहनों तथा घरों में घुसकर तोड़फोड़ की गई. चारदरवाजा क्षेत्र में कांवड़ियों पर हमला, पथराव व राहगीरों के साथ मारपीट, दिल्ली रोड से गुजरने वाले वाहनों में तोड़फोड़ की गई, महिलाओं से अभद्रता तथा पुलिस पर पथराव किया गया. रावलजी के घेर में भीड़ ने घरों पर पथराव किया. इससे लोग पलायन करने को मजबूर हो गए हैं.

षड्यंत्रपूर्वक हो रहे हमले

स्थानीय लोगों का कहना है कि जयपुर शहर में ऐसी घटनाएं षड्यंत्रपूर्वक हो रही हैं. इन घटनाओं के कारण न सिर्फ निर्दोष लोग प्रताड़ित हो रहे हैं, शहर में भय का वातावरण बनाया जा रहा है. ये सभी घटनाएं अत्यंत चिंताजनक हैं कि योजनापूर्वक हजारों लोग इकट्ठा होकर हिन्दू समाज पर हमला कर रहे हैं. इन उपद्रवियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए.

सर्च अभियान चले, पुलिस वेरिफिकेशन हो

ज्ञापन में मांग की है कि चारदरवाजा क्षेत्र में स्थित घरों में सर्च अभियान चलाकर छतों पर पत्थर रखने तथा अवैध हथियार रखने वालों के खिलाफ कार्रवाई हो, सभी घरों में रह रहे किराएदारों का पुलिस वेरिफिकेशन हो, चारदरवाजा में ठेला संचालकों की संख्या में अचानक बढ़ोतरी हुई है, इनमें अधिकांश बाहरी लोग हैं, इन पर नियंत्रण हो, उत्पाती युवक मोटरसाइकिलों पर सवार हिन्दू मोहल्लों में हो–हल्ला करते हुए गुजरते हैं तथा कई बार मोबाइल छीनने की घटनाएं भी हो चुकी हैं, इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए. जिन क्षेत्रों में हिन्दू समाज के लोग अल्पसंख्यक हैं, वहां स्थाई पुलिस चौकी खुलवाई जाए.  इन्हीं घटनाओं के विरोध में शनिवार को भी सेवानिवृत ब्यूरोक्रेटस व प्रबुद्ध लोगों ने पुलिस कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा था.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 5 =