अ.भा. प्रतिनिधि सभा 2018 – कार्यस्थिति, सरसंघचालक जी व सरकार्यवाह जी का प्रवास

अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा में सरकार्यवाह द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन – 2018

2017-18 में संपन्न संघ शिक्षा वर्ग (सामान्य एवं विशेष) तथा प्राथमिक शिक्षा वर्ग की जानकारी

संघ शिक्षा वर्ग:-

 

 

प्राथमिक शिक्षा वर्ग:-

 

 

शाखा वृत्त:-

 

 

सरसंघचालक जी का प्रवास

वर्ष 2017-2018 में सरसंघचालक जी के प्रवास में कार्यकर्ता बैठकों के साथ विशेष महानुभावों से वार्तालाप तथा उनकी उपस्थिति में विभिन्न कार्यक्रम संपन्न हुए हैं.

रामकृष्ण मठ के अध्यक्ष पू. स्वामी स्मरणानंद जी, मुंबई में बोहरा समाज के सम्माननीय सैय्यदना साहब, ईशा फाउंडेशन के सद्गुरु जग्गी वासुदेव जी, हंस फाउंडेशन के पू. भोले जी महाराज तथा पू. मंगलामाता जी, माननीय राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद जी आदि महानुभावों से मिलना हुआ.

संगीत क्षेत्र के जाने-माने कलाकार पद्मश्री राशिद खान, सिने कलाकार अजय देवगण, पूर्व फुटबॉल खिलाड़ी कल्याण जी चैबे, जीएमआर समूह के जी. एम. राव से भी वार्तालाप हुआ.

विशेष कार्यक्रमों मे उपस्थिति

रामानुजाचार्य सहस्राब्दी समापन, बहियारा (आरा, बिहार)

भगिनी निवेदिता 150वीं जयंती निमित्त व्याख्यान, कोलकाता

गुरुतागद्दी – 350 साला प्रकाश पर्व विशेष समागम, दिल्ली

महाराष्ट्र चेंबर ऑफ़ कॉमर्स मुंबई मा. वालचंद स्मृति में व्याख्यान

नेशनल डिफेंस कॉलेज, दिल्ली – वार्तालाप

विविध देशों के दूतावासों के प्रमुखों के साथ अनौपचारिक वार्तालाप

देवगिरी प्रांत के ’बारीपाडा’ ग्राम में गत 25 वर्षों से श्री चैतराम पवार जी के नेतृत्व में ग्रामविकास का बहुआयामी कार्य चल रहा है. पर्यावरण रक्षा विषय पर प्रभावी क्रियान्वयन हो रहा है. ग्रामविकास के क्षेत्र में जो बंधु कार्य कर रहे हैं, ऐसे कार्यकर्ताओं हेतु एक मार्गदर्शक प्रकल्प चल रहा है. प. पू. सरसंघचालक जी ने ग्रामदर्शन कर ग्रामवासियों से वार्तालाप किया.

सरकार्यवाह जी का प्रवास

वर्ष 2017-18 में क्षेत्रश: प्रवास की योजना बनाई थी. प्रवास में संगठनात्मक बैठकों के साथ ही दो प्रकार की विशेष बैठकों का आयोजन किया था. उन क्षेत्रों में वनवासी क्षेत्र में चल रहे कार्य का चिंतन, जो 8 क्षेत्रों में संपन्न हुई. जिसमें वनवासी क्षेत्र में कार्यरत स्थानीय और अखिल भारतीय संस्थाओं के तत्त्वाधान में चलने वाले कार्य के प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित रहे. वनवासी क्षेत्र के वर्तमान में चलने वाले कार्य की जानकारी के साथ ही भविष्य के कार्य के संदर्भ में विचार हुआ. व्यवस्था विभाग की बैठकों का भी आयोजन हुआ. कुछ स्थानों पर विविध प्रकार के कार्यक्रमों की बैठकें भी हुईं.

सेवा विभाग ने ‘‘सेवागाथा’’ नाम से एक वेबसाइट का निर्माण किया है. सेवाक्षेत्र में आने वाले अनुभवों के आधारपर कथालेखन किया जाएगा. इसका लोकार्पण समारोह भोपाल में संपन्न हुआ.

तेलंगाणा प्रांत में कार्यकर्ता शिविर संपन्न हुआ. खंड/नगर एवं ऊपर की सभी इकाईयों के कार्यकर्ता अपेक्षित थे. द्वि-दिवसीय शिविर करीनगर में संपन्न हुआ. 1633 कार्यकर्ता उपस्थित थे. कुल 56% उपस्थिति रही.

पुणे महानगर में उपक्रमशील तरुण व्यवसायी शाखाओं में से 35 शाखाओं का चयन किया था. इन शाखाओं के शाखा टोली के कार्यकर्ता अपेक्षित थे. अपेक्षित 215 में से 190 कार्यकर्ता उपस्थित थे. अनुभव कथन प्रभावी एवं प्रेरक रहा.

राउरकेला (पश्चिम ओडिसा) के प्रवास में सामाजिक सद्भाव बैठक आयोजित की गई. विभिन्न धार्मिक संस्थाओं और 42 समुदायों के 149 बंधु उपस्थित रहे. प्रासंगिक विषयों पर चर्चा हुई.

देहरादून महानगर में शाखा दर्शन कार्यक्रम संपन्न हुआ. एक ही मैदान पर 57 व्यवसायी शाखाएं एक ही समय लगी थीं. 1257 तरुणों की उपस्थिति रही.

सिलीगुड़ी में बस्ती कार्य को गति मिले, इस दृष्टि से बस्ती प्रमुखों की बैठक आयोजित की गई. 108 में से 107 बस्तियों के 170 कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही.

मालवा प्रांत के धार जिले में सुंद्रेल स्थान पर अखिल भारतीय ग्राम विकास तथा गौसेवा में लगे कार्यकर्ताओं की द्वि-दिवसीय बैठक संपन्न हुई. 33 प्रांतों से 182 कार्यकर्ताओं का प्रतिनिधित्व रहा.

11 13

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one + 3 =