Category: प्रेरक-प्रसंग

जीत साहस की….. 0

जीत साहस की…..

जिंदगी व मौत को सबसे पास से देखने वाले डाक्टर हर दिन एक नई परीक्षा से गुजरते हैं. किंतु आज तो डाक्टर ॠषि के जीवन की सबसे बड़ी परीक्षा थी. 23 नौनिहालों की जिंदगी...

VSK-LOGO 0

छद्म नक्सली समर्थकों पर कसी नकेल

जयपुर, (विसंके)। सन २०१८ के आरंभ में ही हुए कोरेगाव-भीमा हिंसा तथा उसके बाद पूरे महाराष्ट्र  में कई स्थानों पर हुई हिंसा के मामलों में पुणे पुलिस ने बुधवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए...

VSK-LOGO 0

सियाचिन में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए दंपत्ति ने गहने बेच एकत्रित की राशि

आज अगर हम अपने घरों में सुरक्षित हैं तो सिर्फ सैनिकों की वजह से. दुनिया के सबसे ऊंचे जंग के मैदान सियाचिन की बात करें तो वहां ऑक्सीजन की इतनी कमी है कि कई बार सोते...

रज्जू भैया जी 0

जहाँ सरसंघचालक और कारचालक एक ही पट्टी पर बैठ कर भोजन करते है, वह है ‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ’

जयपुर (विसंके)। मुझे इस बात से बहुत आश्चर्य होता है ,कि जो लोग राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बारे में कुछ भी नहीं जानते वे बिना सोचे समझे कम्युनिष्टों व कांग्रेसियों के बहकावे में आकर...

संत तुकाराम जयंती पर प्रेरक प्रसंग ‘कद्दू’ 0

संत तुकाराम जयंती पर प्रेरक प्रसंग ‘कद्दू’

एक दल तीर्थ-यात्रा पर जा रहा था। यह दल हर वर्ष तीर्थयात्रा पर जाता था, लेकिन उसके सदस्यों के विकार खत्म नहीं होते थे। दल के सभी सदस्य संत कवि तुकाराम जी के पास...

एक आदर्श गाँव -मोहद 0

एक आदर्श गाँव -मोहद

यहाँ प्रवेश करते ही लगता है कि, हम किसी विशेष गांव में आ गए हैं ।घर-घर के दरवाजे पर ओम व स्वस्तिक की छाप, दीवारों पर जतन से उकेरे गए सुविचार, तो कहीं ब्रम्हांड...

देशद्रोही मुखबिरों का वध _ 8 फरवरी प्रेरक प्रसंग 0

देशद्रोही मुखबिरों का वध _ 8 फरवरी प्रेरक प्रसंग

देशद्रोही मुखबिरों का वध _ 8 फरवरी प्रेरक प्रसंग देश की स्वाधीनता के लिए जिसने भी त्याग और बलिदान दिया, वह धन्य है; पर जिस घर के सब सदस्य फांसी चढ़ गये, वह परिवार...

0

कोटली के अमर बलिदानी – 27 नवम्बर/इतिहास-स्मृति

कोटली के अमर बलिदानी – 27 नवम्बर/इतिहास-स्मृति ‘हंस के लिया है पाकिस्तान, लड़ के लेंगे हिन्दुस्तान’ की पूर्ति के लिए नवनिर्मित पाकिस्तान ने 1947 में ही कश्मीर पर हमला कर दिया। देश रक्षा के...

श्री माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर उपाख्य श्री गुरुजी 0

श्री गुरुजी ने चित्तौड़गढ़ के गाइड को फटकारा

श्री गुरुजी ने चित्तौड़गढ़ के गाइड को फटकारा- “चुप रहो, बकवास बंद करो, जो राजपूत मूंछ के बाल के लिए प्राण न्यौछावर कर देते हैं, क्या वे अपनी रानी महारानी को दर्पण में दिखायेंगे...

अध्यात्म पुरुष बाबा बुड्ढा 0

मैं तो गुरुओं का दास हूं-अध्यात्म पुरुष बाबा बुड्ढा

अध्यात्म पुरुष बाबा बुड्ढा (1 सितम्बर/इतिहास-स्मृति) सिख इतिहास में बाबा बुड्ढा का विशेष महत्त्व है। वे पंथ के पहले गुरु नानकदेव जी से लेकर छठे गुरु हरगोविन्द जी तक के उत्थान के साक्षी बने।...