एनआईए को मिली सफलता – आतंकियों की साजिश नाकाम

तमिलनाडु में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) के हाथ बड़ी सफलता लगी है. एनआईए की जांच में पता चला है कि आतंकियों ने अंसारुल्ला नाम का संगठन बनाया था जो भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश रच रहा था. इस मामले में एनआईए ने कई जगहों पर छापेमारी की. जिसके बाद कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने तमिलनाडु के चेन्नई में सैयद मोहम्मद बुखारी के आवास और कार्यालय में छापा मारा था. इसके साथ ही जांच एजेंसी ने हसन अली युनुसमरिकर और हरीश मोहम्मद के तमिलनाडु के नागापट्टिनम स्थित घर पर भी छापेमारी की थी.

वास्तव में ये लोग एनआईए के रडार पर थे और जांच एजेंसियों को सूचना मिल रही थी कि ये कोई षडयंत्र रच रहे हैं और आतंकी घटनाओं को अंजाम देने की तैयारी कर रहे हैं. एनआईए ने आतंकी संगठन के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

एनआईए ने इन लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 12बी, 121ए और 122 के साथ ही गैरकानूनी गतिविधियों की धारा 17,18,18-बी,38 और 39 के तहत मामला दर्ज किया है. जांच एजेंसियों ने बताया कि पूरी जानकारी पुख्ता होने के बाद चेन्नई में छापेमारी की है. अभी कई लोग एनआईए के रडार पर हैं.

एनआईए की छापेमारी में ये राज खुला है कि ये लोग भारत में हमले की साजिश कर रहे थे और इसके लिए फंड और समर्थकों को जुटाने का काम कर रहे थे. इन लोगों का मकसद भारत में इस्लामिक शासन कायम करना था. जिसके लिए ये आतंकी हमलों की साजिश रच रहे थे.

जांच एजेंसी के अनुसार आतंकियों से देश के अन्य हिस्सों से और बाहर से भी लोग जुड़े हैं. इसकी जांच की जा रही है. सैयद मोहम्मद बुखारी, हसन अली और मोहम्मद युसुफुद्दीन और उसके सहयोगियों ने बड़े पैमाने पर फंड जुटाया है.

पिछले दिनों ही एनआईए ने यूपी और देश के कई हिस्सों में छापेमारी की थी. जिसमें आतंकी बम बनाने के अंतिम चरण में थे. इन आतंकियों से एक देशी रॉकेट लॉंचर भी बरामद किया गया था, साथ ही भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किए गए थे.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × two =