राष्ट्र सेविका समिति के 15 दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग का समापन

राष्ट्र सेविका समिति के ग्रीष्मकालीन प्रवेश एवं प्रबोध प्रशिक्षण वर्ग का 16 जून, रविवार को समापन हुआ. 15 दिनों तक चलने वाला प्रशिक्षण वर्ग 01 जून से ‘गोवर्धन लाल त्रेहन सरस्वती बाल मंदिर में शुरू हुआ था. लाजपत नगर के स्कूल परिसर में प्रशिक्षण वर्ग के समापन अवसर पर भव्य समारोह का आयोजन किया गया. जिसमें राष्ट्र सेविका समिति की प्रमुख संचालिका शांता अक्का, समाज सेविका मधु गेरा और डॉक्टर शारदा जैन (स्त्री रोग विशेषज्ञ) ने संयुक्त रूप से भारत माता के चित्र पर पुष्प अर्पण कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया.

सेविका समिति की प्रमुख संचालिका शांता अक्का ने कहा कि राष्ट्र सेविका समिति व्यक्ति का सर्वांगीण विकास शाखा और वर्ग के माध्यम से कर रही है. वर्ग में शारीरिक, मानसिक एवं बौद्धिक विकास होता है. शारीरिक शिक्षण से आत्मविश्वास की वृद्धि होती है, आत्मविश्वास से समस्या का समाधान होता है और समस्या समाधान से परिवार, समाज और राष्ट्र स्वसंरक्षणक्षम बनाना हमारा उद्देश्य है. समर्थ परिवार से जागरूक देशभक्त नागरिकों का निर्माण होता है. जागरूक देशभक्त ही राष्ट्र व समाज की समस्या का निराकरण कर सकता है.

इस अवसर पर शिक्षार्थियों ने शारीरिक, घोष, योग, दंड, सांघिक गीत कविता पाठ किया. समाज सेविका मधु गेरा ने कार्यक्रम की प्रशंसा की और कहा कि राष्ट्र सेविका समिति भारत की महिलाओं को सशक्त करने का कार्य पिछले 83 वर्षों से कर रही है जो सराहनीय है. मुख्य अतिथि डॉक्टर शारदा जैन ने कहा कि राष्ट्र सेविका समिति के इस प्रशिक्षण वर्ग से नारी सशक्त बनती है और नारी को सबल बनाना देशहित में जरूरी है. 15 दिन तक चले शिविर का प्रबंधन और संचालन राष्ट्र सेविका समिति की दिल्ली प्रांत ने किया था.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five − two =