भौंडसी की आड़ में भौंडे षडयंत्रों से बाज आएं सेक्यूलरवादी – विहिप

जयपुर (विसंकें). हरियाणा के गुरूग्राम के गांव भौंडसी में होली के दिन घटी एक घटना के एक तरफा वीडियो पर मचे बवाल पर विश्व हिंदू परिषद ने सेक्यूलरवादियों के चेताते हुए भौंडसी घटना की आड़ में अपने भौंडे षड्यंत्रों से बाज आने को कहा है. विहिप के केंद्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ. सुरेंद्र जैन ने कहा कि चंदन की हत्या, अंकित की जिबह व बरेली और मुरादाबाद में होली खेलने वालों पर जेहादियों के दंगों पर मौन रहने वाली सेकुलर बिरादरी, भौंडसी में कुछ मुसलमानों की पिटाई की खबर सुनकर अचानक नींद से जाग जाती है. वह यह भी जानने की कोशिश नहीं करती कि इस झगड़े की शुरुआत उन्हीं मुस्लिम युवकों द्वारा की गई थी.

उन्होंने कहा कि गांव के एक मामूली झगड़े को एक अराजक मुख्यमंत्री के ट्वीट द्वारा जो साम्प्रदायिक रंग दिया गया और हिन्दू समाज को गुंडे व दंगाई कहकर अपमानित किया गया, वह बेहद निंदनीय है. इस ट्वीट के बाद सेक्यूलर बिरादरी को लगा कि वह इस बहाने से देश के साम्प्रदायिक माहौल को गरमा सकते हैं, बिना जानकारी लिए वे मैदान में कूद पड़े. इस विषैले वातावरण से प्रशासन दबाव में आ गया और बिना गहन जांच के जिस प्रकार हिन्दू युवक को गिरफ्तार किया गया, वह बहुत आश्चर्यजनक है. हिन्दू समाज पर अत्याचार हो, यही सेक्यूलर बिरादरी की चाहत भी थी. एक तरफा वीडियो जारी कर पैदा किया गया यह बवाल इस बिरादरी की हिन्दू विरोधी मानसिकता को ही दर्शाता है.

डॉ. जैन ने कहा कि दो दिन पूर्व ही इसी मुख्यमंत्री द्वारा जिस प्रकार स्वास्तिक के रूप में हिन्दू समाज को झाड़ू मारकर भगाते हुए दिखाया गया, वह न केवल हिन्दू समाज बल्कि सम्पूर्ण देश की उज्ज्वल परम्पराओं का अपमान है. दबाव बढ़ता देख, स्वास्तिक को हिटलर का चिन्ह बताकर अपने पापों पर पर्दा डालने का भी उन्होंने असफल प्रयास किया.

विश्व हिंदू परिषद ने सभी सेक्यूलरवादियों को चेतावनी देती है कि वह वोट की खातिर हिन्दू- मुसलमानों के बीच खाई को चौड़ा करने का षडयंत्र न रचे और भारत की शांतिपूर्ण सह- अस्तित्व की पुरातन परम्परा पर चोट करने से बाज आएं. विहिप ने भारत के सम्पूर्ण समाज से भी अपील की कि वह इन षड्यंत्रकारियों के बहकावे में न आकर देश के भाई चारे को बनाए रखे.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − 6 =