स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल होगा पौधारोपण का पाठ

6ec277da-cb27-4fca-944e-c69e74624e8d —’अपना संस्थान के वृक्षारोपण महाअभियान के उद्घाटन कार्यक्रम में बोले मंत्री राजकुमार रिणवॉ

जयपुर, 29 मई। ”राजस्थान राज्य के स्कूली पाठ्यक्रम में वृक्षारोपण सम्बन्धित पाठ सम्मिलित किया जाएगा।” यह बात राजस्थान के वन, पर्यावरण एवं खनिज मंत्री राजकुमार रिणवॉं ने रविवार को राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय, सेक्टर 2 में अपना संस्थान, महामना मालवीय भाग, जयपुर द्वारा आयोजित वृक्षारोपण महाअभियान के उद्घाटन कार्यक्रम में कही।
मंत्री राजकुमार रिणवां ने कहा कि वर्षा वहां होती है जहां वृक्ष अथवा पर्वत होते हैं। पर्यावरण संरक्षण के लिये अधिक से अधिक वृक्ष लगाकर उनकी देखरकरनी चाहिये। संघ द्वारा किये जा रहे इस कार्य में हमें अधिक से अधिक पौधारोपण कर रेकॉर्ड बनाना चाहिए।
कार्यक्रम के मुख्य वक्ता, अपना संस्थान के सचिव विनोद मैलाना ने कहा कि पर्यावरण प्रदूषण की समस्या से पूरा विश्व चिन्तित है किन्तु पश्चिम की विकास की अवधारणा के आधार पर भारत के विकास की योजना बनाना उचित नहीं है। पर्यावरण संतुलन के लिये पंच तत्व भूमि, गगन, वायु, अग्नि, नीर के संतुलन की आवश्यकता है। संसार के सभी प्राणी, जीव-जन्तु,प्रकृति एक दूसरे पर आश्रित हैं। हमें सबकी रक्षा करनी होगी।
श्री मैलाना ने बताया कि अपना संस्थान, समाज के अधिक से अधिक लोगों से संकल्प पत्र भरवाकर इस पुनीत कार्य में जोड़ेगा तथा पेड़ लगाने व उनके दो—तीन साल तक पालन की व्यवस्था सुनिश्चित करेगा। इस हेतु उचित स्थान चयनित किये जाकर गड्डे खोदे जायेंगे, पेड़ निशुल्क और ट्री गार्ड निशुल्क अथवा न्यूनतम मूल्य पर उपलब्ध कराये जाएंगे। पेड़ों के सिंचन व देख—रेख की सुदृढ व्यवस्था की जाएगी।
कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि सवाईमानसिंह मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डा.यू.एस.अग्रवाल ने कहा कि शरीर को स्वस्थ रखने के लिये स्वस्थ पर्यावरण एवं जीवन-शैली होनी चाहिये। उन्होंने अस्पताल परिसर में हजारों की संख्या में पेड़ लगवाकर उनका पालन करवाया है जिससे वहां का वातावरण ठीक हुआ है।
भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी के.बी. गुप्ता ने कहा कि लगभग 300 वर्ष पूर्व सन् 1730 में खेजड़ली गांव में अमृता देवी नाम की महिला ने पेड़ों की रक्षा करते हुए अपना बलिदान दे दिया। उसके साथ 362 अन्य लोगों ने भी पेड़ों की खातिर अपने प्राण न्यौछावर कर दिये। उन्होंने उनके बलिदान से सीख लेते हुये अधिक से अधिक पौधारोपण करने का आह्वान किया।
जयपुर नगर निगम उद्यान समिति की अध्यक्षा विमलेश मीणा ने कहा कि एक ओर जहां प्रकृति से खिलवाड़ हो रहा है वहीं संघ द्वारा जनचेतना के साथ पेड़ लगाने और पालन करने का कार्य प्रशंसनीय है। खुली हवा में सांस लेने के लिये शुद्ध पर्यावरण चाहिये। उन्होंने इस कार्य में अपना व अन्य जनप्रतिनिधियों का पूर्ण सहयोग देने का वचन दिया।
संस्था के विभाग संयोजन हनुमान शर्मा ने अपना संस्थान का परिचय दिया।

अपना संस्थान, मानसरोवर का वृक्षारोपण महाअभियान का उद्घाटन कार्यक्रम रविवार को मानसरोवर स्थित आदर्श विद्या मंदिर में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में राजस्थान सरकार के मंत्री अरूण चतुर्वेदी, राजपालसिंह, अपना संस्थाae5b985d-d644-4e82-b3d0-c1e434592940न के सचिव विनोद जी सहित सैंकडों कार्यकर्ता उपस्थित थे। सभी वक्ताओं ने अधिक से अधिक पौधारोपण करने का आह्वन किया।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 5 =